स्तन पकड़ना और दूध पीना बच्चे को कैसे सिखाएं

जानिये आप अपने बच्चे को स्तन पकड़ना और दूध पीना कैसे सीखा सकती हैं, यदि आप अपने बच्चे को अच्छे से दूध पीना सीखा देंगी तो यह आप के बीच्चे और आप दोनों के लिए बहुत अच्छा रहेगा और बच्चा ठीक से दूध भी पी पायेगा।

बच्चे को स्तनपान करने के लिए ठीक से स्तन और निप्पल पकड़ाने के लिए कुछ प्रैक्टिस की आवश्यकता होती है। आप अपने बच्चे को अच्छी तरह से स्तन और निप्पल पकड़ने में मदद करने के लिए विभिन्न तरीके से स्तनपान कराने की कोशिश कर सकती हैं। एक पकड़ के लक्षण जानें।

Loading...

स्तनपान करना सीखने के दौरान अपने बच्चे को अच्छा लेच प्राप्त करने में कैसे मदद कर सकती हैं?

नीचे दिए गए स्टेप्स आप के बच्चे की स्तनपान शुरू करने और अच्छे से लैच प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं। बच्चे को खुद से स्तन ढूढने देने से आप के ऊपर से कुछ दबाव कम हो जाता है और बच्चा शांत और आराम से रहता है। दूध पीना सीखने का यह तरीका ज्यादा आरामदेह होता है और बच्चा अपने हिसाब से सीखता है। इस तरीके में बच्चा अपने हिसाब से अपना इंस्टिंक्ट इस्तेमाल करके दूध पीना सीखता है।

ध्यान रखें कि स्तनपान शुरू करने का कोई एक तरीका नहीं है। जब तक बच्चा अच्छी तरह से पकड़ना सीख नहीं जाता जाता है, तब तक आप कैसे उसे करती हैं आप पर निर्भर है।

  • एक शांत वातावरण पहले बनाएँ: तकियों या अन्य आरामदायक क्षेत्र पर ऐसी स्थिति में रहें जहां आप आराम से और शांत हो सकती हैं
  • अपने बच्चे को अपनी त्वचा से चिपकाकर पकड़ें: अपने बच्चे को केवल एक डायपर पहने हुए पकड़ें, अपनी नंगे छाती से सटाकर। अपने स्तनों के बीच बच्चे को सीधे पकड़िये और सिर्फ थोड़ी देर के लिए बिना स्तनपान का ध्यान किये ऐसे ही आनंद लें।
  • अपने बच्चे को खुद से कोशिश करने दें: यदि आपका बच्चा भूख नहीं है, तो वह आपकी छाती के ऊपर घुमाएगा। अगर आपके बच्चे को भूख लगी है, तो वह सर घुमाकर आँख से संपर्क करने की कोशिश करेगा, और चारों ओर चोंचें मारेगा।
  • अपने बच्चे की सहायता करिए लेकिंग उसे जबजस्ती निप्पल ना पकड़ायें: अपने सिर और कंधों का के साथ हुए शिशु स्तन की खोज करता है।
  • अपने स्तन को स्वाभाविक रूप से लटका दें: जब बच्चे की ठोड़ी आपके स्तन से छूती है, तो इसका दबाव बच्चे को मुह खोलने और निप्पल तक पहुँचने में मदद करता है। जैसे ही बच्चा अपनी चीन स्तन में दबाता है और अपना मुह खोलता है, तब उसे अच्छे से निप्पल की पकड़ मिलाती है। हमेशा ध्यान रखे की दूध पीते समय बच्चे को सांस लेने में दिक्कत न हो।
इसे भी पढ़ें -  डायबिटीज और इरेक्टाइल डिसफंक्शन Diabetes & Erectile Dysfunction

यदि आपने “बच्चे के नेतृत्व वाले” तरीके की कोशिश की है और आपके बच्चे को अभी भी समस्याएं हैं, तो इन टिप्स से प्रयास करें:

  • अपने निप्पल से बच्चे के होंठ में गुदगुदी करके उसे चौड़ा करने के लिए और उसे खोलने के लिए प्रोत्साहित करें
  • बच्चे को अपने पास लायें जिससे बच्चे की ठुड्ढी और निचला जबड़ा स्तन में आये
  • बच्चे के निचले होंठ को देखिये और निप्पल के आधार से जितनी संभव हो सके उतना लक्ष्य रखें ताकि बच्चा स्तन को मुह में भर ले।

दूध पिलाने का तरीका

बच्चा अच्छी तरह से दूध पीने के लिए स्तन पकड़ रहा है, कैसे जाने?

Loading...

एक अच्छी तरह से स्तन पकड़ने के लक्षणों में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • जब बच्चा स्तन मुंह में अच्छे से लेता है तो आप को आराम महशूस होता है, बच्चा निप्पल को दबाता या कटता नहीं है
  • बच्चे की छाती आप के शरीर से सटी होती है। बच्चे को दूध पीते समय सर घूमनें की जरूरत नहीं पड़ती है
  • आप के बच्चे के मुह के आकार और आप के स्तन के अरोला के हिसाब से आप का अरोला पूरा बच्चे के मुह में होता है
  • जब बच्चा अच्छे से स्तन लेता है तब उसका मुह पूरा स्तन से भरा होता है
  • बच्चे की जीभ स्तन के नीचे होती है और दूध पीते समय बच्चे की जीभ नहीं दिखाती है
  • आप को बच्चे को दूध गटाने की आवाज आती है या फिर दिखाई देता है भी बच्चा दूध गटक रहा है
  • बच्चे के कान थोड़े फ़ैल जाते हैं
  • बच्चा अच्छे से दूध पीते समय कान धीरे धीरे हिलाता रहता है
  • शिशु के होंठ बहार की तरफ खुल जाते हैं और आप बच्चे के नीचे वाले होंठ नहीं देख सकती हैं
    बच्चे की ठोड़ी आप के स्तन को छूती रहती है

दूध पिलाने में बच्चे का ठीक से स्तन पकड़ने की समस्या

दूध पिलाने में दर्द होना: कई माताओं का कहना है कि जब वे स्तनपान शुरू कराती है तो उन्हें छाती में हल्का दर्द महसूस होता हैं। एक मां और उसके बच्चे को आराम से दोद्ध पिलाने वाली स्थिति और अच्छे से स्तन पकड़ने के लिए लिए समय की आवश्यकता होती है। अगर स्तनपान में दर्द होता है, तो हो सकत है आपका बच्चा केवल निप्पल ही चूस रहा हो जबकि उसे पूरा अरोला (गहरे रंग वाला स्तन का हिस्सा) चूसना चाहिए।

इसे भी पढ़ें -  पेनिस रिंग Penis Ring | Constriction Rings

आप को बच्चे के मुह के एक कोने में हलके से साफ़ उंगली डाल कर उससे पहले निप्पल छुड़ाना चाहिए और फिर से उसे स्तन पकड़ने की कोशिश करनी चाहिए। यह पता लगाने के लिए की क्या आप का बच्चा सिर्फ आप का निप्पल चूस रहा है, आप को निप्पल निकल कर देखना चाहिए, निप्पल सिकुड़ा हुआ या दबा हुआ नहीं होना चाहिए। इसे गोल और लम्बा दूध पिलाने से पहले जैसा होना चाहिए।

आप या आपका बच्चा निराश महसूस करते हैं: थोड़े समय का ब्रेक लें और अपने स्तनों के बीच अपने बच्चे को सीधा रखें पूरी तरह से चिपकाकर, अपने बच्चे से बात करें या गाना गाएं, या आराम के लिए अपने बच्चे को अपनी साफ़ उंगलियों में से एक चूसने के लिए दें, फिर थोड़ी देर में स्तनपान कराने की कोशिश करें।

बच्चा धीरे धरे दूध चूसता है या बहुत कम समय के लिए दूध चूसता है: इसका मतलब है आपके स्तन के दूध को चूसने के लिए आपका बच्चा ठीक से स्तन मुंह में नहीं डाल पा रहा है। अपने बच्चे के मुंह के कोने में एक साफ उंगली रखकर अपने स्तन धीरे-धीरे छुड़ा लें। दुबारा अपने बच्चे को फिर से पकड़ाने की कोशिश करें। ठीक से दूध ना चूस पाना शायद ही कभी किसी स्वास्थ्य समस्या के कारण होता है, आप चाहें तो अपने डॉक्टर से भी बात करा सकती हैं।

बच्चे को ठीक से दूध पिलाने के कुछ टिपिकल तरीके

कुछ महिलाओं को निचे दी गयी दूध पिलाने की स्थितियां और तरीके आराम दायक लग सकते हैं। आप अपनी बाहों के नीचे, कोहनी के नीचे या फिर गर्दन या पीठ के पीछे तकिया भी रख सकती हैं, इससे आप को अलग से आराम मिलेगा। आप को जब तक आराम न महसूस हो आप को अलग अलग पोजीशन अजमाते रहना चाहिए। हो सकता है जो तरीका एक बार काम किया हो वो हर बार काम न करे।

इसे भी पढ़ें -  पेनिस एनलार्जमेंट Penis enlargement Facts

क्लच या “फ़ुटबॉल” पकड़:

यदि आप की सी-सेक्शन डिलीवरी हुई है या आप के स्तन बहुत बड़े हैं या आप के निप्पल उल्टे या सपाट हैं या फिर तो आप के लिए यह तरीका सही हो सकता है। यह तरीका उन बच्चों के लिए भी आराम दायक होता है जो थोड़ी ऊपर की स्थिति में रहन पसंद करते हैं।

क्रॉस क्रैडल: यह प्री-मेच्योर बच्चो या धीरे दूध चूसने वाले बच्चो के लिए अच्छी पोजीशन होती है। क्यों की इसमें बच्चे के सर को ज्यादा सहारा मिलता है और बच्चे को स्तन पकड़ने में मदद मिलाती है।

cross cradle

क्रैडल hold: ज्यादातर बच्चों और माताओं के लिए आरामदायक और सबसे आसान तरीका।cradle hold

Laid-back hold (straddle hold): और अधिक आरामदायक तरीका, पीठ पर एक तकिया लगाकर बैठ जाइए और बच्चे को सीधे अपने स्तनों के बीच लिटा कर उसे खुद पीने दीजिये।laid back

करवट में लेट कर दूध पिलाना: अगर आप को सी-सेक्शन डिलीवरी हुई है और आप अगर दूध पिलाते समय आराम करना चाहती है तो यह तरीका बहुत अच्छा है। एक करवट लेकर लेट जाइए और बच्चे को अपनी तरफ मुह करके अपने स्तन के पास लिटा दीजिये।side laying

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!