पुरुषों में सेक्स के दौरान दर्द की समस्या कारण और उपचार

जानिये सेक्स के दौरान पुरुषों में दर्द के क्या करन हो सकते हैं और कैसे इन कारणों से निपटा जा सकता है?

सेक्स एक आनंद का विषय है। यह किसी भी वयस्क की एक ज़रूरत है और इसे अक्सर संतोषजनक और सुखदायक माना जाता है। सेक्स के दौरान होने वाले चरम से शारीरिक और मानसिक संतोष मिलता है। लेकिन कुछ शारीरिक कारणों से सेक्स आनंद न देकर कष्ट दे सकता है। ऐसा ज्यादातर महिलाओं के साथ देखा जाता है कि योनि के संकुचन, hymen के टूटने या सेक्स करने के शुरुआती दिनों में सम्भोग के दौरान उन्हें दर्द होता है। लेकिन कई कारणों से पुरुषों में भी सेक्स से दर्द हो सकता है। सेक्स के दौरान दर्द, किसी भी तरह का आनंद नहीं आने देता और चरमोत्कर्ष तक पहुंचने को असंभव बना सकता है। किसी आदमी में यदि गुप्तांगों में कोई समस्या जैसे पेनिस पर छाले, फोड़े, एलर्जी, वक्रता, आदि है तो इससे सेक्स के दौरान दर्द हो सकता है।

Loading...

सेक्स के दौरान पुरुष को दर्द क्यों हो सकता है? पेनिस में दर्द के क्या कारण हैं?

पुरुषों के लिए सेक्स के दौरान दर्द के कुछ सामान्य कारण हैं, नीचे दिए जा रहे हैं:

पेरोनी रोग Peyronie’s disease

पीयरोनी की बीमारी वाले पुरुषों में सेक्स करने में समस्या हो सकती है। यह अक्सर चिंता और असुविधा का कारण बनता है। पेरोनी की बीमारी का कारण काफी हद तक अज्ञात है लेकिन शोध से पता चलता है कि लिंग को आघात के बाद यह स्थिति विकसित हो सकती है। पेनिस को चोट लगने पर इससे रक्तस्राव और उसके बाद के स्कार टिश्यू का निर्माण हो सकता है। आनुवांशिकी और उम्र पेरोनी के रोग में एक भूमिका निभाते हैं। पुरुषों की उम्र बढ़ने से ऊतक के परिवर्तन से पेनिस में चोट लगना आसान हो जाता है और ठीक होना धीमा हो जाता है।

पेरोनी की बीमारी का मुख्य लक्षण प्लाक नामक फ्लैट स्कार टिश्यू का गठन होता है। यह स्कार टिश्यू आमतौर पर त्वचा के माध्यम से महसूस किया जा सकता है। प्लाक आम तौर पर लिंग के ऊपरी हिस्से पर होता है, लेकिन नीचे या तरफ भी हो सकता है। स्कार टिश्यू से लिंग टेढ़ा / वक्र हो जाता है।

इसे भी पढ़ें -  डिस्परेयूनिया Dyspareunia: सम्भोग और दर्द, कारण और इलाज

आप क्या कर सकते हैं: पेरोनी रोग के लिए विशेषज्ञ सहायता की आवश्यकता होती है। हालांकि, कुछ जीवनशैली में बदलाव, वजन कम करना, कोलेस्ट्रॉल का स्तर ठीक रखना, शराब नहीं पीने आदि से मदद मिल सकती है, हालांकि मामूली रूप से। इस समस्या के उपचार के लिए मूत्र रोग विशेषज्ञ से मदद लें।

पेनिस की फॉरस्किन बहुत टाइट होना Tight foreskin

इस स्थिति को फाइमोसिस phimosis कहते है। इसमें फॉरस्किन शिश्न के सिर के पीछे पूरी तरह से नहीं हटती। एक अन्य स्थिति पैराफिमोसिस paraphimosis, में फॉरस्किन पीछे तह जाती है और और आगे नहीं जा सकती है। इन दोनों स्थितियों में संभोग के दौरान दर्द हो सकता है।

आप क्या कर सकते हैं: दुर्भाग्य से, सेक्स के दौरान दर्द से राहत पाने के लिए आप इन मामलों में ज्यादा कुछ नहीं कर सकते। पेनिस की फॉरस्किन को डॉक्टर के द्वारा कटवा पर त्वचा को फ्री कर दने से आपको कुछ राहत मिल सकती है।

प्रोस्टेटाइटिस Prostatitis

प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन को प्रोस्टेटाइटिस कहते हैं। प्रोस्टेटाइटिस, प्रोस्टेट ग्रंथि में संक्रमण के कारण होता है। इससे पेशाब के दौरान दर्द -जलन होती है। यह ग्रंथि जो मूत्राशय / ब्लैडर के पीछे स्थित होती है और स्खलन के दौरान दर्द के लिए जिम्मेदार हो सकती है।

आप क्या कर सकते हैं: प्रोस्टेटाइटिस का इलाज आमतौर पर कुछ एंटीबायोटिक दवाओं और अन्य दवाओं के साथ किया जाता है जो यूरोलोजिस्ट मूत्र रोग विशेषज्ञ द्वारा निर्धारित की जाती है।

घर पर इससे आराम पाने के लिए सेक्स से पहले गर्म स्नान की कोशिश कर सकते हैं या अपने नितंबों तक गर्म पानी के साथ एक टब में बैठ सकते हैं। बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से भी लाभ होता है।

आप एक ही स्थान पर बहुत लंबे समय तक बैठे नहीं हैं, क्योंकि इससे लक्षण खराब हो सकते है।

मूत्र पथ के संक्रमण Urinary tract infections

इसे भी पढ़ें -  अंडकोष दर्द क्यों होता है और उपचार कैसे करें

यद्यपि यह माना जाता है कि महिलाओं में मूत्र पथ के संक्रमण आम हैं, लेकिन यह पुरुषों में भी अक्सर देखा जाता है। यूटीआई से ग्रस्त पुरुषों अक्सर पेशाब के दौरान दर्द या जलन के बारे में शिकायत करते हैं। इसके अलावा, पेनिस से गंध आती है और स्खलन के दौरान दर्द होता है। यीस्ट संक्रमण पेनिस की नोक के आसपास खुजली या उत्तेजना पैदा कर सकता है।

आप क्या कर सकते हैं: यदि आप यूटीआई के किसी भी रूप से पीड़ित हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप संभोग के दौरान कंडोम का इस्तेमाल करें जिससे आपके साथी को संक्रमण होने की संभावना कम हो। इसके अलावा, यह सुनिश्चित करें कि आप अपने लिंग को पहले और बाद में, विशेष रूप से चमड़ी के नीचे, धो लें। आपके सिस्टम से बैक्टीरिया को फ्लश करने के लिए बहुत सारा पानी दिन भर पीते रहें।

एलर्जी Allergies, Dermatitis

कुछ पुरुषों को साबुन या क्रीम, केमिकल से एलर्जी हो सकती है और पेनिस में इन उत्पादों के इस्तेमाल से सूजन और खुजली हो सकती है। । रासायनिक उत्पादों के प्रयोग से एलर्जी प्रतिक्रियाओं और संवेदनशीलता के कारण पेनिस की त्वचा पर एलर्जी हो सकती है। यह उन पुरुषों में अधिक आम है जिनका खतना हुआ है। यह सुनिश्चित करें कि आप सेक्स से पहले अपने लिंग पर कुछ भी उपयोग न करें। यदि एलर्जी गंभीर होती है, तब तक सेक्स से बचना चाहिए जब तक आप ठीक नहीं हो जाते।

आप क्या कर सकते हैं: यौन संबंध रखने से पहले अपने जननांगों पर कुछ नया प्रयोग करने से बचें। जब तक ऐसी एलर्जी ठीक नहीं हो जाए सेक्स करने का प्रयास न करें, क्योंकि इससे समस्या को बढ़ सकती है।

हर्पीस Genital herpes

जननांग हर्पीज एक तरह का यौन संचारित रोग जो संभोग के समय दर्द कर सकती है और संक्रमण को तेजी से फैला सकती है। इसमें पेनिस पर पिम्पल या छाला हो जाता है जिसमें दर्द होता है।

इसे भी पढ़ें -  स्वप्नदोष नाईटफाल की दवा और उपचार

आप क्या कर सकते हैं: यदि आप हर्पीस से पीड़ित हैं और इसके लक्षण हैं, पेनिस पर छाले हैं तो आपको सेक्स नहीं करना चाहिए, यहां तक ​​कि अपने कंडोम के साथ भी नहीं। जब तक आप एक यूरोलोजिस्ट से परामर्श लेकर इसका ठीक से इलाज नहीं करवा लेते तब तक आपको सेक्स करने से बचना चाहिए।

यौन संचारित रोग STD

यौन संचारित रोग एसटीडी (यौन सं‍चारित संक्रमण/रोग STI OR STD) को इंग्लिश में सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिसीज़ को कहा जाता है। यह उन संक्रमणों का सामूहिक नाम है जो की मैथुन के द्वारा फैलते हैं।

यौन संचारित संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक सेक्सुअल कांटेक्ट के दौरान फैलते हैं। जिन एसटीडी से पेनिस में दर्द होता है, उनके होने से सेक्स के दौरान दर्द भी हो सकता है।

आप क्या कर सकते हैं: यौन संचारित रोग के सही उपचार के लिए डॉक्टर से मिलें। यह रोग अपने आप ठीक नहीं होते और रोग के हिसाब से ही एंटीबायोटिक, एंटीवायरल या एंटीफंगल दवाएं दी जाती हैं। बिना इलाज़ के यह रोग शरीर में पड़े रह सकते हैं और बार बार उभरते रहते हैं।

सेक्स के दौरान दर्द होना पुरुषों में बहुत अनकॉमन नहीं है। दर्द से चरमोत्कर्ष तक पहुंचना मुश्किल हो जाता है।

सेक्स के दौरान दर्द के कई कारण हो सकते हैं। पुरुष संभोग के दौरान और स्खलन के दौरान दर्द का अनुभव करते हैं। यदि आपके साथ ऐसा हो रहा है तो आपको यूरोलोजिस्ट से परामर्श लेना चाहिए। इस स्थिति का सही निदान और इलाज करने की आवश्यकता है। समय से राय लेने से रोग को आगे बढ़ने से रोका जा सकता है। प्रोस्ट्रेट की सूजन, पेशाब का इन्फेक्शन, बैक्टीरियल इन्फेक्शन आदि में आपको डॉक्टर की सलाह पर एंटीबायोटिक लेने पड़ सकती हैं। यदि कोई एलर्जी है, दाने या रैश हैं वे अपने आप कुछ दिनों में ठीक हो सकते हैं लेकिन जब तक ये ठीक नहीं हो जाएँ आपको सेक्स नहीं करना चाहिए।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.