गर्भ ठहरने के लिए सेक्स Sex for Pregnancy

गर्भ धारण कैसे करे, गर्भ ठहरने की विधि और गर्भ ठहरने के लिए क्या करें? गर्भ धारण करने के लिए सेक्स का उचित समय क्या हिता है? जानिये गर्भवती होने के लिए कौन कौन से सेक्स के तरीके ठीक होते हैं? Garbh dharan karne ka tarika aur sex ka sahi samay hindi me.

गर्भावस्था तब होती हैं जब स्त्री के अंडाणु और पुरुष के शुक्राणु मिलते हैं। पुरुषों के हर स्राव में लाखों शुक्राणु निकलते हैं। लेकिन स्त्रियों में हर महीने एक अंडाणु ova ही निकलता है जो यदि समय से निषेचित fertilized न हो तो यह टूट कट शरीर में अब्सोर्ब हो जाता है और प्रेगनेंसी नहीं होती और अगला पीरियड आ जाता है।

Loading...

स्त्रियों में अंडाणु के ओवरी से रिलीज़ होने को ओव्यूलेशन कहते हैं। यह अंडाणु ओवरी से निकलकर फेलोपियन ट्यूब fallopian tube में कुछ घंटे रहता है। इस बीच यदि शुक्राणु मिल जाए तो फर्टिलाइजेशन हो जाता है और निषेचित ओवा गर्भाशय में चला जाता है और इम्प्लांट होकर बढता रहता है।

ओव्यूलेशन कब होता है?

यदि आपका मासिक धर्म चक्र 28 दिनों का है तो करीब 14वें दिन के एक-दो दिन पहले या बाद में ओव्यूलेशन हो सकता है। यह आपके चक्र के बीच में होता है। यह फर्टिलिटी विंडो 10वें दिन से शुरू होती है। यदि आप कम से कम हर दूसरे दिन 28-दिवसीय चक्र के दिन 10वें  और 14वें दिन के बीच यौन संबंध रखते हैं, तो आपको गर्भवती होने की अधिक संभावना है।

यदि आपका मासिक धर्म चक्र नियमित नहीं है, तो सहायता के लिए अपने डॉक्टर से पूछें। ओव्यूलेशन केवल नियमित और निश्चित अंतराल आने वाले पीरियड के ही बीच में होता है।

ओव्यूलेशन ovulation के लक्षण क्या हैं?

मासिक धर्म चक्र में शरीर में हार्मोन का स्तर बदलता रहता है। महीने के शुरू में अंडाशय एस्ट्रोजन होर्मोन को बनाता है। जब एस्ट्रोजन का स्तर काफी अधिक हो जाता है, तो अंडाशय से अंडे को रिलीज़ किया जाता है। इससे आपके शरीर में कुछ परिवर्तन होते हैं जैसे शरीर का तापमान थोड़ा बढ़ जाता है। इसी दौरान योनि में निकलने वाला स्राव भी बदल जाता है जो शुक्राणुओं के लिए उपयुक्त कंडीशन तैयार करता है। योनि से स्राव अधिक होता है और योनि अधिक चिकनी होती है।

इसे भी पढ़ें -  एम्नियोसेंटेसिस Amniocentesis के बारे में जानकारी

आजकर मार्किट में ओव्यूलेशन जांचने की किट भी मिलती हैं लेकिन यह महंगी हैं।

गर्भ ठहरने के लिए लिए सेक्स कब करें?

यदि आप प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो पीरियड के तुरंत बाद बिना किसी प्रोटेक्शन के सेक्स करना चाहिए।

डॉक्टरों का कहना है कि कम से कम हर दूसरे दिन सेक्स करना सबसे अच्छा है, विशेषकर ओव्यूलेशन के 5 दिनों के आस-पास। यह समय फर्टिलिटी विंडो कहलाता है। इस बीच बच्चा ठहरने की सम्भावना सबसे ज्यादा रहती है। शुक्राणु स्त्री के शरीर के अंदर कुछ दिनों तक जीवित रह सकते हैं, इसलिए उन्हें जैसे ही एग रिलीज़ होता हैं ये उससे मिल सकते हैं।

गर्भ ठहरने के लिए सेक्स की कौन सी पोजीशन सबसे सही है?

मिशनरी पोजीशन सबसे उपयुक्त है।

बच्चा चाहती हैं तो सेक्स के तुरंत बाद उठे नहीं 5-10 मिनट लेटी रहें। सेक्स के दौरान पेल्विस के नीचे तकिया रखें।

हो सकता है की उसी महीने बच्चा हो जाए या कुछ महीने लग जाएँ।

मिशनरी पोजीशन Missionary position क्या है?

मिशनरी पोजीशन सेक्सुअल इंटरकोर्स की वह स्थिति है जिसमें कपल फेस तो फेस होते हैं। पुरुष की पोजीशन ऊपर man-on-top position और स्त्री की नीचे होती है। इससे डीपर पेनेट्रेशन होता है और वीर्य के अंदर जाने की सम्भावना ज्यादा होती है।

कब गर्भ ठहरने की सम्भावना न के बराबर होती है?

ऐसे तो यह बता पाना मुश्किल है लेकिन पीरियड की एक्सपेक्टेड डेट के 5-6 दिन पहले के सेक्स से गर्भ ठहरने की संभावना नहीं होती।

Loading...

One Comment

  1. Sex ke Doran viry ka nhi thahrna.. Pura liquid return bhar aa Jata h ese me grbh Dharn kese hoga …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!