गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द, पीठ, पैर और अन्य हिस्सों में दर्द

गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द, पीठ दर्द, पैर का दर्द बहुत सामान्य होता है, जानिये इससे कैसे आप निपट सकती हैं और किन परिस्थितियों में आप को डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

गर्भावस्था में पेट में दर्द और अन्य अंगों में दर्द बहुत सामान्य होता है, आपके शरीर में बहुत अधिक परिवर्तन होते हैं जैसे जैसे आपका बच्चा बढ़ता है और आपका हार्मोन बदलता है। गर्भावस्था के दौरान अन्य आम लक्षणों के साथ, आप को अक्सर नयी जगह पर दर्द हो सकता है जिसको हम सामान्य भाषा में गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द कहते हैं। इसके अलवा आप के अन्य अंगों में भी दर्द हो सकता है।

गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द (पेडू) या प्रजनन अंगों में दर्द

अक्सर, यह 18 से 24 सप्ताह के बीच होता है जब आप खिचाव या दर्द महसूस करती हैं, या दर्द धीरे-धीरे चलते हैं या स्थिति बदलते रहते हैं

हल्का दर्द और कम समय के लिए स्थायी दर्द सामान्य हैं। अगर आपके को निरंतर, गंभीर पेट में दर्द, संकुचन, या आपके को दर्द के साथ खून बह रहा हो या बुखार हो तो तुरंत अपने डॉक्टर के पास याएं। ये ऐसे लक्षण हैं जो अधिक गंभीर समस्याओं का संकेत कर सकते हैं, जैसे:

गर्भावस्था के दौरान सरदर्द

Loading...

गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द के साथ सर दर्द भी बहुत होता है। गर्भावस्था के दौरान सिरदर्द सामान्य होते हैं दवा लेने से पहले, अपने डॉक्टर से पूछें कि अगर यह सुरक्षित है दवा के अलावा, आराम करने के तरीको की तकनीक मदद कर सकती है।

सिरदर्द प्रीक्लम्पसिया (गर्भावस्था के दौरान उच्च बीपी हो सकता है। यदि आपका सिरदर्द बिगड़ जाता है, और जब आप आराम करने से आसानी से नहीं जाते हैं तो अपने डॉक्टर को बताएं और एसिटामिनोफेन (Tylenol) लें, विशेष रूप से आपकी गर्भावस्था के अंत में यह हो सकता है।

इसे भी पढ़ें -  फोलिक एसिड (फोलेट) : लाभ, कमी, आहार और स्रोत

गर्भावस्था में पीठ दर्द

गर्भावस्था में आपकी पीठ और पोस्चर पर खिंचाव बढ़ता है। गर्भावस्था में पीठ के दर्द से बचने या कम करने के लिए, आप निम्न कर सकते हैं:

  • बहुत लंबे समय तक खड़े रहने से बचें
  • चीजें उठाते समय अपने घुटनों को झुकाएं कमर को मत झुकाओ
  • भारी वस्तुओं को उठाने से बचें
  • ज्यादा वजन बढ़ने से बचें
  • अपनी पीठ के दर्द वाले हिस्से पर गर्मी या ठंड का प्रयोग करें
  • अपनी पीठ के दर्द वाले हिस्से की मालिश करें। यदि आप एक पेशेवर मालिश चिकित्सक के पास जाती हैं, तो
  • उन्हें बताएं कि आप गर्भवती हैं
  • शारीरिक रूप से फिट रहें, पैदल चलें$, और नियमित रूप से स्ट्रेचिंग करें
  • अच्छा बैक सपोर्ट वाली कुर्सी पर बैठें
  • लो एड़ी वाले जूते चप्पल पहनें
  • अपने पैरों के बीच एक तकिया रख कर सोयें।

गर्भावस्था में पैर का दर्द

आप के गर्भवती होने पर आपके ऊपर अतिरिक्त वजन आपके पैरों को पीठ को चोट पहुंचा सकते हैं।

आपका शरीर एक हार्मोन भी बनाता है जो आपके शरीर को स्तनपान कराने के लिए आप को तैयार करनें के लिए जोड़ों को ढीला करता है। हालांकि, यह ढीले जोड़ अक्सर आपकी पीठ को अधिक आसानी से घायल कर सकते हैं, इसलिए आप उठाते और व्यायाम करते समय सावधान रहें।

गर्भावस्था के अंतिम महीनों में पैरों में ऐंठन आम है कभी-कभी आपके पैरों को बिस्तर पर स्ट्रेच करने से ऐंठन कम हो जाती है आप अपने डॉक्टर से पूछ सकती हैं की कैसे सावधानी पूर्वक स्ट्रेचिंग करें।

अगर एक पैर में दर्द और सूजन है, लेकिन दूसरे नहीं तो यह यह रक्त के थक्के का संकेत हो सकता है अपने डॉक्टर को बताएं अगर यह होता है।

सुन्न होना और सिहरन होना

जैसे जैसे आपका गर्भाशय बढ़ता है, यह आपके पैरों में तंत्रिकाओं पर दबाव दाल सकता है। इससे आपके पैर और पैर की उंगलियों में कुछ सुन्नपन और झुनझुनी हो सकती है (पिन और सुई की भावना)। यह सामान्य है और जन्म देने के बाद दूर हो जाएगा (यह कुछ हफ्तों से महीने लग सकता है)।

इसे भी पढ़ें -  गर्भपात (miscarriag) के बारे में जानकारी

आपको अपनी उंगलियों और हाथों में भी सुन्नता या झुनझुनी हो सकती है सुबह में जब आप जागती हैं, तो आप को इसका ज्यादा अनुभव हो सकता हैं यह आपके जन्म के बाद ठीक हो जाता है, फिर भी, हमेशा सही नहीं होता है।

अपने डॉक्टर को किसी भी कठिनाई, झुनझुनी, या किसी भी चीज की कमजोरी को सुनिश्चित करने के लिए सुनिश्चित करें कि कोई गंभीर समस्या न हो।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.