टेस्टोस्टेरोन की कमी का पता कैसे लगाये Low Testosterone Diagnosys

जानिये पुरुषों के शरीर में Testosterone टेस्टोस्टेरोन की कमी का पता लगाना क्यों बहुत जरुरी होता है और इसका पता कैसे लगाया जाता है। अगर सही समय पर टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) की कमी का पता नहीं लगाया जाये तो शरीर को बहुत नुक्सान पहुँच सकता है।

अगर आप वयस्क हैं और आप टेस्टोस्टेरोन की कमी( Low Testosterone ) का पता लगाना चाहते है तो मैं आप को नीचे कुछ लक्षण बताने जा रहा हूँ जिसकी मदद से आप low Testosterone का पता लगा सकते हैं।

Loading...

टेस्टोस्टेरोन की ज्यादा जानकारी के लिए इस पोस्ट को जरूर पढ़े Testosterone | टेस्टोस्टेरोन का कम स्तर जानकारी, लक्षण और उपचार

अगर आप का टेस्टोस्टेरोन नार्मल से कम हो गया है तो सबसे पहले आप का सेक्स करने का मन कम होने लगेगा और इसके साथ आप का लिंग या तो खड़ा नहीं होगा या ज्यादा देर तक खड़ा नहीं रह पायेगा।

लेकिन टेस्टोस्टेरोन की कमी के और भी लक्षण होते है जो सेक्स से सम्बंधित नहीं होता है। टेस्टोस्टेरोन की कमी के कुछ लक्षण

  1. उर्जा की कमी
  2. काम पूरा करने की क्षमता में गिरावट
  3. चिडचिडापन

इसके साथ साथ आप की एकाग्रता में बहुत कमी आ सकती है और अवसाद(depression) बढ़ सकता है।

टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) की कमी के कारण शरीर में बदलाव होने लगते हैं जैसे की

  1. मांसपेसियों की कमी
  2. छातियों का बढ़ाना
  3. शरीर पर बालों की कमी
  4. टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) की कमी के कारण osteoporosis(एक प्रकार की arthritis) हो सकती है जो की हड्डियों को कमजोर कर देती है और हड्डियाँ टूट भी सकती हैं।

टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) स्वस्थ्य मांसपेसियों के लिए भी बहुत जरूरी होता है। टेस्टोस्टेरोन की कमी मांसपेसियों के घनत्व की कम कर देती है जिससे की बहुत सारे खतरे बढ़ जाते हैं जैसे की ह्रदय भी मांसपेसियों से बना होता है और उसको भी टेस्टोस्टेरोन चाहिए।

जौसे जैसे शरीद में टेस्टोस्टेरोन घटता है चारदी बढाती है जो की मधुमेह (diabetes) की संभावना बढ़ जाती है।

इसलिए मर्दों को टेस्टोस्टेरोन की कमी के बारे में ध्यान रखना चाहिए और general physicians को भी अपने मरीजो को इसके बारे में बताते रहना चाहिए।

लेकिन ये सारे लक्षण दूसरी वजहों से भी हो सकते हैं, इसलिए अपने डॉक्टर को दिखाइए और इसकी जांच कराइए।

इसे भी पढ़ें -  स्वप्नदोष नाईटफाल की दवा और उपचार

डॉक्टर को क्या करेंगे

जब आप डॉक्टर के यहाँ जायेंगे तो डॉक्टर आप से निम्न लिखीं सवाल पूछ सकत है:

  1. क्या आप की कोई पारिवारिक समस्या है
  2. वो आप की पूरी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में पूछेंगे
  3. आप को सभी दवावों के बारे में बताना चाहिए जो आप ने ली है या ले रहे हैं

इस कंडीशन के लिए बहुत सी बाते जिम्मेदार हो सकती है जैसे की तनाव, काम का दबाव और आप की दिनचर्या।
डॉक्टर आप की शारीरिक जांच भी कर सकते हैं जैसे की पेनिस, अंडकोष, बाल,और छाती।

इसके बाद डॉक्टर आप के ब्लड की जान के लिए बोलेंगे जो की किसी पैथोलॉजी से कारण होता है, सामान्य तौर पर यह जांच सुबह सुबह ब्लड सैंपल लिया जाता है क्यों की इस समय टेस्टोस्टेरोन (Testosterone)सबसे ज्यादा रहता है।

टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) की नार्मल रेंज 300~1000 per DL होती है, अगर किसी का लेवल इससे कम है तो उसको ऊपर बताई गयी समस्याएं हो सकती हैं।

टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) की कमी के कारण पता करिए

अगर आप में टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) का पता चला है तो और दूसरी जांच भी करायी जाती है जिससे पता किया जा सके की आप में इसकी कमी क्यों है, इसके लिए डॉक्टर आप के अन्डकोशों की भी जांच करा सकते हैं।

जरुरी नहीं की कोई स्पेसिलिस्ट डॉक्टर भी टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) कमी के कारणों का पता लगा पाए।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.