सोफ्रामाइसिन को कैसे और किन रोगों में प्रयोग करते हैं?

सोफ्रामाइसिन त्वचा के सेकेंडरी बैक्टीरिया संक्रमणों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है। यह जलने, एक्जिमा, कार्सिनोमा, मुँहासे, सोराइसिस, वैरिकास अल्सर, आदि में सेकेंडरी बैक्टीरिया संक्रमण को नियंत्रित करने में उपयोगीहै।

एलोपैथिक दवाई सोफ्रामाइसिन Soframycin Skin Cream in Hindi एक क्रीम है जिसे केवल बाहरी रूप से लगाया जाता है। सोफ्रामाइसिन 1% क्रीम को त्वचा के जीवाणु संक्रमण का इलाज करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इसे जले हुए घावों पर, कटने, फोड़े, बाह्य कान में इन्फेक्शन आदि में इस्तेमाल किया जा सकता है।

Soframycin

यह दवा केवल बाहरी उपयोग के लिए है। उपयोग करने से पहले दिशाओं के लिए लेबल की जांच करें प्रभावित क्षेत्र को साफ और सूखा और क्रीम लगायें। आवेदन करने के बाद अपने हाथों को धो लें।

सोफ्रामाइसिन 1% क्रीम बैक्टीरिया के लिए आवश्यक प्रोटीन के संश्लेषण को बाधित करके बैक्टीरिया को मारता है। यह केवल उन घावों पर लगाई जानी चाहिए जो बैक्टीरिया से संक्रमित हैं या संक्रमित हो सकते हैं। क्योंकि यह केवल बैक्टीरियल ग्रोथ को रोकने वाली दवा है इसे फंगल-यीस्ट इन्फेक्शन पर लगाने से कोई ज्यादा फायदा नहीं हो पायेगा।

  • ब्रांड नाम/ दवा का नाम: Soframycin
  • जेनेरिक: Framycetin, D-Streptamine, Framycin sulfate, LS-147029, Neomycin B, Neomycin sulphate, Sulfate (salt) D-Streptamine
  • निर्माता: Sanofi-Aventis
  • मुख्य प्रयोग: बैक्टीरियल त्वचा इन्फेक्शन  
  • मूल्य: 1 tube (30 gm) ₹37.84

सोफ्रामाइसिन क्या है?

सोफ्रामाइसिन, फ्रामाइसेटिन सल्फेट /Framycetin का एक ब्रांड नाम है।

फ्रामाइसेटिन दवाओं के एक वर्ग से संबंधित है जिसे एिनोग्लिक्साइड एंटीबायोटिक्स कहा जाता है। यह संक्रमण का कारण बनने वाले बैक्टीरिया को मारकर कार्य करता है।

  • यह एक केमिकल है व  एंटीबायोटिक मरहम के रूप में उपलब्ध है।
  • इसमें जीवाणुनाशक के साथ-साथ एक विस्तृत जीवाणुरोधी स्पेक्ट्रम प्रभाव है।
  • यह एक एंटीबायोटिक है, जो अमिनोग्लियक्साइड ग्रुप से है।
इसे भी पढ़ें -  एमोक्सिसिलिन Amoxicillin गर्भावस्था में यूज़

इसे  त्वचा के सेकेंडरी बैक्टीरिया संक्रमणों का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है। यह जलने, एक्जिमा, कार्सिनोमा, मुँहासे, सोराइसिस, वैरिकास अल्सर, आदि में सेकेंडरी बैक्टीरिया संक्रमण को नियंत्रित करने में उपयोगीहै।

Framycetin sulfate is an aminoglycoside bactericidal antibiotic. It is active against a wide variety of both Gram-positive and Gram-negative bacteria.

सोफ्रामाइसिन की संरचना क्या है?

Loading...

Soframycin Composition/Ingredients

  • Soframycin 1% Cream
  • Framycetin Topical (1% w/w)
  • Preservatives
  • Methyl Paraben IP 0.08%
  • Propyl Paraben IP 0.04%
  • Excipient q.s.

सोफ्रामाइसिन किन रूपों में उपलब्ध है?

Soframycin Availability

  • यह क्रीम की ट्यूब की तरह उपलब्ध है।
  • क्रीम को उस क्षेत्र में सीधे लागू करने के लिए निर्देश दिया जाता है जिसे इलाज की आवश्यकता होती है।

सोफ्रामाइसिन को किन रोगों में प्रयोग करते हैं?

सोफ्रामाइसिन के चिकित्सीय उपयोग निम्न हैं:

Soframycin Indications

  • अल्सर
  • जलन
  • अन्य त्वचा दोष
  • अतिसंवेदनशील सूक्ष्मजीवों से संक्रमित
  • एंटीबायोटिक
  • बैक्टीरियल डर्माटोज़  bacterial dermatoses
  • इपेटीगो impetigo
  • फरनुंकोलासिस furunculosis संक्रमित बाल कूप, फोड़ा
  • क्षतिग्रस्त त्वचा
  • संक्रमित त्वचा
  • सेकेंडरी संक्रमणों में जैसे जूँ और खुजली

सोफ्रामाइसिन को कब इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

Soframycin Contraindications

सोफ्रामाइसिन को ज्ञात अतिसंवेदनशीलता में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

कुछ रोगियों में अन्य अमीनोग्लाइक्साइड एंटीबायोटिक दवाओं (नेमोसीन, कनामाइसिन), के लिए अतिसंवेदनशीलता हो सकती है, लेकिन सोफ्रामाइसिन के लिए भी ऐसा हो, यह ज़रूरी नहीं है।

यदि संक्रमण बैक्टीरियल नहीं है, तो इसका इस्तेमाल नहीं करें।

सोफ्रामाइसिन को कैसे इस्तेमाल करनी चाहिए?

दवा लगाने से पहले, अपने हाथों और प्रभावित क्षेत्र को अच्छी तरह से धो लें और सूखें। प्रभावित क्षेत्र में एक पतली परत को लागू करें।

सोफ्रामाइसिन को सीधे घाव पर लगाया जाता है। ज़रूरी हो तो उचित ड्रेसिंग के साथ कवर किया जाता है।

यदि घाव गीला है, तो ड्रेसिंग को कम से कम एक बार दैनिक रूप से बदलना चाहिए।

जलन के जोखिम को कम करने और स्वस्थ त्वचा के साथ संपर्क से बचने के लिए घाव के आकार में ड्रेसिंग को काटना चाहिए।

इसे भी पढ़ें -  ब्रोमोक्रिप्टीन दवा का उपयोग की जानकारी

सोफ्रामाइसिन के इस्तेमाल के लिए क्या क्या सावधानियां हैं?

Soframycin Precautions

  • बच्चों और बुजुर्ग मरीजों में सतर्कता का प्रयोग किया जाना चाहिए।
  • यह दवा महत्वपूर्ण मात्रा में अवशोषित हो सकती है इसलिए गर्भवती महिला इसे नहीं ओर उपयोग करें तो बेहतर है। दवा का अवशोषण लगाए गए हिस्से के आकार पर निर्भर है।
  • जो लोग अपने शरीर की सतह क्षेत्र के 30% से अधिक पर इसे लगाते हैं उन्हें डॉक्टर से सलाह लेकर ऐसा करना चाहिए।
  • कुछ लोगों को एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं। इसलिए पहले पैच टेस्ट करें।  एलर्जी की प्रतिक्रिया, में शामिल हैं खुजली, चेहरे और गले में सूजन, सांस लेने में दिक्कत आदि।
  • सोफ्रामाइसिन का लंबे समय तक उपयोग कुछ जीवाणुओं, कवक या अन्य जीवों के अतिवृद्धि का कारण हो सकता है जो दवा द्वारा मारे नहीं जाते हैं। इससे अन्य संक्रमण हो सकते हैं, जैसे कि खमीर संक्रमण। अपने चिकित्सक से संपर्क करें यदि इलाज किए जा रहे क्षेत्र में सुधार नहीं हो रहा है या स्थिति बिगड़ती है।
  • यदि आप एलर्जी प्रतिक्रिया (त्वचा की चकत्ते, चेहरे या अंगों में सूजन, श्वास लेने में परेशानी, और निगलने में परेशानी) से पीड़ित हैं, तत्काल आपातकालीन चिकित्सा की तलाश करें।

सोफ्रामाइसिन कौन सी अन्य दवाइओं से इंटरैक्ट  करती है?

सोफ्रामाइसिन किसी दवा से इंटरैक्ट  नहीं करती।

सोफ्रामाइसिन के साइड इफ़ेक्ट क्या हो सकते हैं?

Soframycin Adverse Effects

  • आवेदन साइट पर दंश, जल या खुजली
  • त्वचा की जलन
  • सूजन
  • रूखी त्वचा
  • संवेदनशील त्वचा

यह साइड इफेक्ट की पूरी सूची नहीं है। अपने चिकित्सक को किसी भी प्रतिक्रियाओं के बारे में बताएं, और यदि तुरंत यहां सूचीबद्ध दुष्प्रभावों में से कोई गंभीर हो या यदि कोई अन्य गंभीर प्रतिक्रिया हो तो तत्काल चिकित्सा की तलाश करें।

सोफ्रामाइसिन कैसे स्टोर करें?

Soframycin Storage

  • दवा को निर्देशों के अनुसार ही स्टोर करें। इसे रौशनी और नमी से दूर रखें। दवा को अँधेरे में सूखे स्थान पर रखें।
  • दवा के सेवन से पहले एक्सपायरी डेट चेक करें।
  • खराब दवा को ठीक तरह से डिस्पोज करें।
  • दवा को बच्चों की दृष्टि और पहुँच से दूर रखें।
  • सोफ्राम्यसीन क्रीम (फ्रैमेसिसेट सल्फेट) को कभी भी मुंह से नहीं लिया जाना चाहिए। यदि आकस्मिक अंतर्ग्रहण होता है, तो तुरंत चिकित्सा की आवश्यकता होगी।
इसे भी पढ़ें -  डेपो प्रोवेरा इंजेक्शन Depo Provera (contraceptive injection)

Related Posts

एंटीफंगल दवाओं की जानकारी
एन्थोसिस नाइग्रिकन का कारण और इलाज
त्वचा उतरने का कारण और उपचार
जानें भौहों के बाल के झड़ने के कारण, निदान और उपचार
अत्यधिक पसीना का कारण और उपचार

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.