मेटफॉर्मिन मधुमेह की दवा Metformin For Type-2 Diabetes

जानिये मेटफॉर्मिन के क्या क्या उपयोग हैं और इसके कौन कौन से साइड इफेक्ट्स हैं। मेटफॉर्मिन टाइप-२ डायबिटीज में कैसे काम कराती है। Know what are benefits, uses and side effects of Metformin in diabetes.

मेटफॉर्मिन अकेले या अन्य दवाओं के साथ टाइप 2 मधुमेह (जिस स्थिति में शरीर इंसुलिन का सामान्य रूप से उपयोग नहीं करता है) के लिए प्रयोग की जाती है। मेटफोर्मिन दवाई रक्त में ग्लूकोज (शर्करा) की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करती है। यह आपके भोजन से ग्लूकोज की अवशोषित मात्रा को कम करती है तथा यकृत द्वारा ग्लूकोज को बनाये जाने को भी कम करती है।

जिन लोगों को मधुमेह और उच्च रक्त शर्करा (Blood Sugar) लम्बे समय से है, वे हृदय रोग, स्ट्रोक, गुर्दा की समस्याएं, तंत्रिका क्षति, और आंख की समस्याओं सहित गंभीर जटिलताओं के रिस्क पर होते हैं। जीवनशैली में परिवर्तन (जैसे, आहार, व्यायाम, धूम्रपान छोड़ना), दवाओं को लेना और नियमित रूप से आपकी रक्त शर्करा (Blood Sugar) की जांच से आपकी मधुमेह को प्रबंधित करने और अपने स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद मिल सकती है।

दवाओं के द्वारा उपचार हृदय के दौरे, स्ट्रोक, या अन्य मधुमेह संबंधी जटिलताओं जैसे कि गुर्दा की विफलता, तंत्रिका क्षति (सुन्न, ठंडे हाथ या पैर, पुरुषों और महिलाओं में यौन क्षमता में कमी, आंख की समस्याएं, परिवर्तन सहित) की संभावनाओं को कम कर सकती है।

मेटफोर्मिन तरल, टैबलेट, और एक एक्सटेंडेड रिलीज (लंबे समय पर निकलने वाली) टैबलेट के रूप में मुंह से जाती है। इसे आमतौर पर भोजन के साथ दिन में एक या दो बार लिया जाता है। एक्सटेंडेड रिलीज़ मेटफोर्मिन को पूरा निगल कर लें। इस कुचल कर, तोड़ कर या चबा कर लेने की गलती न करें।

एक्सटेंडेड रिलीज़ टैबलेट को आमतौर पर शाम के भोजन के साथ दैनिक रूप से लिया जाता है। मेटफोर्मिन हर दिन एक ही समयके आसपास ले लें। अपने डॉक्टर के पर्चे लेबल पर दिशानिर्देशों का सावधानीपूर्वक पालन करें, और अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से किसी भी हिस्से को समझाने के लिए पूछें जो आपको नहीं समझते।

डॉक्टर शुरू में आपको मेटफोर्मिन की कम खुराक दे सकते हैं और और धीरे-धीरे आपकी खुराक को हर 1-2 सप्ताह पर एक से अधिक बार बढ़ा सकते हैं जिससे रक्त शर्करा (Blood Sugar) स्तर नियंत्रित रहे।

इसे भी पढ़ें -  वियाग्रा Blue Pill Viagra Pfizer (Sildenafil)

आपको ध्यान से खून में शर्करा की मात्रा को मॉनिटर करने की आवश्यकता होगी ताकि यह पता चल सके कि मेटफ़ॉर्मिन इसे कण्ट्रोल कर रही हैं कि नहीं।

मेटफोर्मिन मधुमेह को नियंत्रित करता है लेकिन इसे ठीक नहीं करता है। अगर आपको सूट करे तो मेटफ़ॉर्मिन लेना जारी रखें। अपने डॉक्टर से बात किए बिना मेटफ़ॉर्मिन लेना बंद न करें।

Metformin hydrochloride, an oral antihyperglycemic medicine is used in the management of type 2 diabetes. Metformin hydrochloride (N, N-dimethylimidodicarbonimidic diamide hydrochloride) is not chemically or pharmacologically related to any other classes of oral antihyperglycemic agents.

Metformin improves glucose tolerance in patients with type 2 diabetes, lowering both basal and postprandial plasma glucose.

Metformin decreases hepatic glucose production, decreases intestinal absorption of glucose, and improves insulin sensitivity by increasing peripheral glucose uptake and utilization.

मैटफॉर्मिन की डोज़ क्या है?

मेटफॉर्मिन को टाइप 2 डायबिटीज मिलिटस में दिया जाता है। इसे खाने के साथ लेना है।

व्यस्क: शुरू में, प्रति दिन 500 मिलीग्राम, दिन दो बार या तीन बार, या 850 मिलीग्राम 1-2 बार दैनिक। कम से कम 1 सप्ताह के अंतराल पर धीरे-धीरे डोज़ को 2000-3000 मिलीग्राम तक बढ़ाया जा सकता है।

बच्चे:  उम्र ≥10 साल पहले, 500 मिलीग्राम प्रतिदिन 1-2 बार दैनिक या 850 मिलीग्राम एक बार दैनिक। कम से कम 1 सप्ताह के अंतराल पर 2 या 3 विभाजित खुराक में रोज़ाना की अधिकतम 2000 मिलीग्राम तक डोज़ बढ़ा सकते हैं।

यदि मैं एक डोज़ भूल जाऊं तो मुझे क्या करना चाहिए?

जैसे ही को याद आये , मिस खुराक को तुरंत ले लें। अगर अगली डोज़ लेने का समय है, तो मिस्ड खुराक को छोड़ दें और नियमित डोज़ का शेड्यूल जारी रखें। दुगनी डोज़ कभी न लें।

मैटफॉर्मिन दवा का क्या दुष्प्रभाव side effects हो सकता है?

मैटफॉर्मिन दवा से आपके रक्त में शर्करा में परिवर्तन हो सकता है। मेटफ़ॉर्मिन के कईसाइड इफेक्ट्स हैं। अपने डॉक्टर से बताएं यदि यह लक्षण नहीं दूर हो रहे:

  1. सूजन Bloating
  2. कब्ज Constipation
  3. दस्त Diarrhea
  4. त्वचा के फ्लशिंग Flushing of the skin
  5. गैस Gas
  6. सरदर्द Headache
  7. एसिडिटी  Heartburn
  8. खट्टी डकार Indigestion
  9. मांसपेशियों में दर्द Muscle pain
  10. नाखून में परिवर्तन Nail changes
  11. पेट दर्द Stomach pain
  12. मुंह में अप्रिय धातु का स्वाद Unpleasant metallic taste in mouth
  13. छाती में दर्द Chest pain
  14. रैश Rash
इसे भी पढ़ें -  डेपो प्रोवेरा इंजेक्शन Depo Provera (contraceptive injection)

मेटफॉर्मिन की ज्यादा डोज़ से कुछ फीमेल प्रयोगशाला जानवरों के गर्भाशय में पॉलीप्स polyp (ऊतक की असामान्य वृद्धि) विकसित हुई है। यह ज्ञात नहीं है कि मेटफोर्मिन मनुष्यों में पॉलीप्स के जोखिम को बढ़ा देता है। इस दवा को लेने के जोखिम के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

मेटफोर्मिन के अन्य दुष्प्रभाव हो सकते हैं। इस दवा को लेते समय आपके पास कोई असामान्य समस्या है तो अपने चिकित्सक से तुरंत बात करें।

मेटफोर्मिन की ओवरडोज़ के क्या लक्षण हैं?

  1. ओवर डोज़ के लक्षणों में हाइपोग्लाइसीमिया के लक्षण और निम्न शामिल हो सकते हैं:
  2. असामान्य रूप से तेज़ या धीमी दिल की धड़कन Abnormally fast or slow heartbeat
  3. कम हुई भूख Decreased appetite
  4. गहरी, तेजी से श्वास Deep, rapid breathing
  5. बेचैनी Discomfort
  6. चक्कर आना Dizziness
  7. चरम थकान Extreme tiredness
  8. ठंड महसूस होना Feeling cold
  9. त्वचा के फ्लशिंग Flushing of the skin
  10. चक्कर Lightheadedness
  11. मांसपेशियों में दर्द Muscle pain
  12. जी मिचलाना Nausea
  13. साँसों की कमी Shortness of breath
  14. पेट दर्द Stomach pain
  15. उल्टी Vomiting
  16. दुर्बलता Weakness

मेटफोर्मिन से क्या रिएक्शन reactions हो सकते हैं?

  1. एनोरेक्सिया Anorexia
  2. जी मिचलाना Nausea
  3. उल्टी Vomiting
  4. दस्त Diarrhoea
  5. पेट में दर्द Abdominal pain
  6. स्वाद अस्थिरता Taste disturbance
  7. हेपेटाइटिस Hepatitis
  8. विटामिन बी 12 अवशोषण में कमी Decreased vitamin B12 absorption
  9. पर्विल Erythema
  10. प्ररिटस और अर्टिसियारिया Pruritus and urticaria
  11. संभावित घातक: लैक्टिक एसिडोसिस Potentially Fatal: Lactic acidosis

मेटफोर्मिन किसके द्वारा नहीं ली जानी चाहिए?

मेटफोर्मिन एक्यूट या क्रोनिक मेटाबोलिक एसिडोसिस, डायबिटिक केटोएसिडोसिस, सर्जरी, किडनी रोग में नहीं ली जानी चाहिए।

मेटफोर्मिन के ड्रग इंटरेक्शन drug interactions क्या है?

थिजाइड डाइरेक्टिक्स, कॉर्टिकोस्टेरॉइड, फेनोथियाज़िन, ओसी, सहानुभूति, निकियासिन, सीए चैनल ब्लॉकर्स और आइसोनियाज़िड Thiazide diuretics, corticosteroids, phenothiazines, OC, sympathomimetics, niacin, Ca channel blockers

एसीई इनहिबिटर ACE inhibitors आदि।

मेटफोर्मिन की प्रेगनेंसी केटगरी क्या है?

केटेगरी बी B – गर्भवती महिलाओं पर कोई पर्याप्त, नियंत्रित अध्ययन नहीं किया गया है। पशु प्रजनन पर किये गए अध्ययन भ्रूण के लिए खतरा failed to demonstrate a risk to the fetus नहीं दिखा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.