फ्लुकोनाजोल Fluconazole की जानकारी हिंदी में

जानिये फ्लुकोनाजोल (Fluconazole) टैबलेट क्या होती है यह किन किन बिमारियों में इस्तेमाल होती है और इसके साइड इफेक्ट्स क्या क्या हैं। इसको बिना किसी डॉक्टर के परामर्श के बिना फ्लुकोनाजोल नहीं लेना चाहिए क्यों की इसके साइड इफेक्ट्स बहुत बुरे होते हैं। फ्लुकोनाजोल fungal इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए इस्तेमाल होती है।

एलोपैथिक दवाई फ्लुकोनाजोल (Fluconazole) एक एंटीफंगल दवा है जिसे फंगल और यीस्ट कैंडिडा इन्फेक्शन में इस्तेमाल किया जाता है। यह एज़ोल एंटिफंगल्स’ नामक दवाओं के एक वर्ग से संबंधित है। यह कुछ प्रकार के कवक के विकास को रोककर काम करती है।

फ्लूकानोज़ोल की गोली या सस्पेंशन को मुंह से निगल कर लेते हैं। इसे दिन में एक बार ही लिया जाता है। यदि यह सस्पेंशन है, तो इसे दवा के साथ मिलने वाले मेजरिंग ढक्कन से नाप कर लेना चाहिए। यह दवा रोज एक ही समय पर ली जानी चाहिए जिससे एक निश्चित अंतराल बना रहे। इसे डॉक्टर द्वारा निर्देशित समय तक लिया जाना चाहिए बाले ही लक्षण दूर हो गए हों।

फ्लूकानोज़ोल की डोज़ और कब तक लिया जाए, यह मेडिकल कंडीशन पर निर्भर है। बच्चों में यदि इसका प्रयोग किया जाना हो तो मात्रा बच्चे के वज़न पर निर्भर है। बच्चों को इसकी दी जा सकने वाली अधिकतम मात्रा 400 मिलीग्राम है।

Fluconazole Tablet is used for candidiasis (esophageal, oropharyngeal, peritoneal, urinary tract, vaginal), systemic candida infections (eg, candidemia, disseminated candidiasis, and pneumonia), cryptococcal meningitis, antifungal prophylaxis in allogeneic bone marrow transplant recipients.  Fluconazole stops the further growth of fungi and helps the body to get rid of the infection. Fluconazole is available in may be available in various strengths.

The usual dose of this medicine for different infections for an adult person, is given below:

To treat cryptococcal meningitis: 400 mg on the first day then 200 mg to 400 mg once daily for 6 to 8 weeks or longer if needed. Sometimes doses are increased up to 800 mg.

To stop cryptococcal meningitis from coming back: 200 mg once daily until you are told to stop.

To treat coccidioidomycosis: 200 mg to 400 mg once daily from 11 months for up to 24 months or longer if needed. Sometimes doses are increased up to 800 mg.

इसे भी पढ़ें -  येलो फीवर के टीके की जानकारी

To treat internal fungal infections caused by Candida: 800 mg on the first day then 400 mg once daily until you are told to stop.

To treat mucosal thrush – dose depends on where the infection is located: 50 mg to 400 mg once daily for 7 to 30 days until you are told to stop.

To stop mucosal infections affecting the lining of mouth, throat: 100 mg to 200 mg once daily, or 200 mg 3 times a week, while you are at risk of getting an infection.

To treat genital thrush: 150 mg as a single dose.

To treat fungal skin and nail infections: Depending on the site of the infection 50 mg once daily, 150 mg once weekly, 300 to 400 mg once weekly for 1 to 4 weeks (Athlete’s foot may be up to 6 weeks, for nail infection treatment until infected nail is replaced).

To stop you from getting an infection caused by Candida (if your immune system is weak and not working properly): 200 mg to 400 mg once daily while you are at risk of getting an infection.

फ्लूकानोज़ोल (Fluconazole) कौन से रोगों में दी जाती है?

  1. कैंडिडा कवक मुंह, त्वचा, नाखून या योनि का संक्रमण Candida fungus infection of mouth, skin, nails or vagina
  2. कैंडिडा प्रजातियां पेट की गुहा अस्तर की खमीर संक्रमण Candida species yeast infection of abdominal cavity lining
  3. कैंडिडिअसिस ओरोफेरेंक्स का संक्रमण Candidiasis fungal infection of the oropharynx
  4. पूरे शरीर में कैंडिडिआसिस खमीर संक्रमण Candidiasis yeast infection that spreads throughout body
  5. एसोफेगस के फफूंद संक्रमण Fungal infection of the esophagus
  6. क्रिप्टोकोकस के कारण फंगल मेनिन्जाइटिस Fungal meningitis caused by cryptococcus
  7. लिंग थ्रश Penis thrush
  8. खून में candida albicans कवक की उपस्थिति Presence of candida albicans fungus in the blood
  9. कैंडिडा प्रजातियों की उपस्थिति रक्त में खमीर Presence of candida species yeast in the blood
  10. प्रसारित कैंडिडिआसिस की रोकथाम के लिए उपचार Treatment for prevention of disseminated candidiasis
  11. कैंडिडा अल्बिकी कवक के कारण मूत्र पथ के संक्रमण Urinary tract infection due to candida albicans fungus
  12. योनि थ्रश Vagina thrush
  13. योनि का खमीर संक्रमण Yeast infection of vagina and vulva
इसे भी पढ़ें -  फेनोफाइब्रेट Fenofibrate Uses, Benefits, Side Effects, Dosages, Warnings in Hindi

फ्लुकोनाजोल (Fluconazole) के क्या दुष्प्रभाव हैं?

  1. इससे मतली , उल्टी , दस्त , पेट परेशान / दर्द, सिरदर्द , चक्कर आना , या बालों के झड़ने के लक्षण हो सकते हैं।
  2. सिर में दर्द Headache
  3. जी मिचलाना Nausea
  4. उलटी Vomiting
  5. पेट दर्द Abdominal pain
  6. लूज़ मोशन Diarrhea
  7. चमड़ी पर चक्कते Skin rash

इसके दुर्लभ लेकिन संभव साइडइफेक्ट्स जैसे अनियमित दिल की धड़कन , गंभीर चक्कर आना, बेहोशी आदि हो सकते हैं। ऐसे में तुरंत चिकित्सा सहायता प्राप्त करें। पेनिस पर छाले, पेनिस से दिस्काह्र्गे, पेशाब के दौरान दर्द हो तो डॉक्टर को बताएं।

यदि यकृत रोग के किसी भीका कोई भी लक्षण को विकसित हो जैसे की गंभीर पेट दर्द , लगातार मतली / उल्टी , पीली आंखें / त्वचा , गहरे रंग का मूत्र, असामान्य थकान आदि, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

असामान्य साइड इफेक्ट्स Uncommon Side effects

  1. लाल रक्त कोशिकाओं में कमी जो त्वचा को पीला बना सकती है और कमजोरी या सांस न आने की वजह हो सकती है
  2. भूख न लगना
  3. नींद लेने में असमर्थता या बेहोशी
  4. फिट, चक्कर आना, झुनझुनी, चुभना या सुन्नता का भाव, स्वाद के भाव में बदलाव
  5. कब्ज, मुश्किल पाचन, हवा, शुष्क मुंह
  6.  मांसपेशियों में दर्द
  7. जिगर की क्षति और त्वचा और आंखों की पीली (पीलिया)
  8. पित्ती, खुजली, पसीने में वृद्धि
  9. थकान, बुखार

दुर्लभ दुष्प्रभाव Rare Side Effects

  1. सफेद रक्त कोशिकाओं में कमी
  2. त्वचा पर लाल या बैंगनी रंग के धब्बे दिखना जो कम प्लेटलेट गिनती के कारण होता है
  3. ब्लड केमेस्ट्री में बदलाव
  4. लीवर फेलियर
  5. एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं (कभी-कभी गंभीर), जिसमें व्यापक ब्लिस्टरिंग दाने और त्वचा छीलने,
  6. गंभीर त्वचा प्रतिक्रियाओं, होंठ या चेहरे की सूजन
  7. बाल झड़ना

यह संभावित साइड इफेक्ट की पूरी सूची नहीं है। यदि अन्य प्रभाव दिखें तो भी डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

फ्लुकोनाजोल (Fluconazole) लेने से पहले क्या सावधानियां Precautions रखें?

इस दवा का उपयोग करने से पहले अपने चिकित्सक को अपनी मेडिकल हिस्ट्री जैसे की हृदय रोग, लीवर रोग, किडनी की बीमारी, आदि के बारे में बताएं।

इसे भी पढ़ें -  डेपॉक्सेटिन Dapoxetine शीघ्रपतन की दवा

सर्जरी करने से पहले, अपने चिकित्सक या दंत चिकित्सक को आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले सभी उत्पादों के बारे में बताएं।

गर्भावस्था के दौरान, यह दवा केवल तभी इस्तेमाल की जानी चाहिए जब स्पष्ट रूप से आवश्यक हो। यह दवा अपने आप गर्भावस्था में न लें। डॉक्टर इसको लेने से होने वाले फायदे या नुकसान को तौल कर यह दवा दे सकते हैं।

गर्भावस्था के पहले 3 महीनों के दौरान रोज़ाना उच्च खुराक में लेते समय यह एक अजन्मे बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है। योनि यीस्ट संक्रमण , में लगानी वाली दवा का प्रयोग किया जाना चाहिए।

फ्लुकोनाजोल (Fluconazole) के ड्रग इंटरेक्शन Drug Interaction क्या हैं?

यह दवा निम्न दवाओं के साथ इंटरैक्ट कर सकती है:

  1. Alfentanil
  2. Aliskiren
  3. Alprazolam
  4. Amitriptyline
  5. Amlodipine
  6. Artesunate

थक्का न बनने देने की दवा, शुगर कम करने की दवाओं, हाइड्रोक्लोरोथियाजिड, का प्रभाव इसके सेवन से बढ़ जाता है।

फ्लुकोनाज़ोल Contraindications कब न लें?

फ्लुकोनाज़ोल लेने से पहले, अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट को बताएं कि क्या आप को अन्य अज़ोल एंटिफंगल दवाओं (जैसे किटोकोनज़ोल , इट्राकोनाजोल ), से एलर्जी है। इस उत्पाद में निष्क्रिय सामग्री हो सकती है, जिससे एलर्जी प्रतिक्रियाओं या अन्य समस्याएं हो सकती हैं। एलर्जी हो तो इसे न लें।

  1. इसे 16 साल से कम आयु के बच्चों को खुद से न दें डॉक्टर से संपर्क करें।
  2. इसे गर्भावस्था में इसे खुद से न लें डॉक्टर से संपर्क करें।
  3. एंटीहिस्टामिन, एलर्जी के लिए खा रहे हैं तो इसे न लें।

इसे न लें यदि cisapride (used for stomach upsets), quinidine (used for heart disease), pimozide (for treating a mental disorder (Schizophrenia), erythromycin (an antibiotic for treating infections), आदि का सेवन कर रहें है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.