डिस्प्रिन टैबलेट Disprin Tablet in Hindi

जानिये डिस्प्रिन टैबलेट किस लिए उपयोग की जाती है और इसे कैसे लेते हैं? किन किन बिमारियों के होने पर डिस्प्रिन नहीं लेनी चाहिए और इससे क्या क्या alergy हो सकती है. डिस्प्रिन के साइड इफेक्ट्स क्या होते हैं हिंदी में जानिये। Know about disprin tablet usage, dosage and side effects in Hindi.

एलोपैथिक दवाई डिस्प्रिन (रेकिट बेन्कीसर) मुख्य रूप से सिर के दर्द headache के लिए प्रचारित की जाती है। इस दवाई में एस्पिरिन, कैल्शियम कार्बोनेट और डीहाइड्रेटेड सिट्रिक एसिड है। यह दवाई नॉनस्टोरायडियल एंटी इन्फ्लैमेटरी ड्रग्स (एनएसएआईडीएस) NSIDs के समूह की दवा है जो की सूजन और दर्द को दूर करती है।

डिस्प्रिन को कोल्ड-फ्लू, बुखार, पीरियड के दर्द, गले की ख्राषा, साइटिका, नयूरेल्जिया, माइग्रेन, लुम्बागो, रूयूमेटिक दर्द और दान्दर्द में भी लिया जा सकता है।

इस दवा के बहुत से साइड-इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसे 16 वर्ष तक की आयु के बच्चों को नहीं दिया जाना चाहिए, जब तक डॉक्टर ने निर्देशित न किया हो। गर्भावस्था और स्तन पान के दौरान डिस्पिरिन को नहीं लें। यह बच्चे के लिए नुकसानदायक है। कोई अन्य दवा ले रहें हैं तो कृपया एस्पिरिन से उसके इंटरेक्शन को ज़रूर देख लें।

दवा के साइड इफेक्ट्स को कम करने के लिए इसे कम से कम डोज़ में और कम से कम समय के लिए प्रयोग करें।

निर्माता: रेकिट बेन्कीसर Reckitt Benckiser

क्लास:

  1. थक्का-रोधी Anticoagulants
  2. एंटीप्लेटलेट्स और फाइब्रिनोलिटिक्स (थ्रोम्बोलिटिक्स) Antiplatelets & fibrinolytics (thrombolytics)
  3. नॉनटेरोडायडियल एंटी-इन्फ्लैमेटरी ड्रग्स Nonsteroidal anti-inflammatory drugs (nsaids)

डिस्प्रिनटैब का कम्पोजीशन क्या है?

एस्पिरिन 350 मिलीग्राम, कैल्शियम कार्बोनेट 105 मिलीग्राम, निर्जल साइट्रिक एसिड 35 मिलीग्राम।

ASPIRIN (acetylsalicylic acid)

एस्पिरिन गैर स्टेरायडल सूजनरूधि दवा (एनएसएआईडीएस) है। यह दर्द और सूजन जैसे सिरदर्द, दांत दर्द और तंत्रिका दर्द ,पीठ दर्द ऊपरी श्वास नलिका संक्रमणों में राहत देने के लिए प्रयोग की जाती है।

डिस्प्रिनके संकेत / उपयोग क्या है?

Loading...
  1. हल्के-मध्यम दर्द जैसे सिरदर्द headache
  2. मस्कुलोस्केलेटल दर्द musculoskeletal pain
  3. मासिक का दर्द dysmenorrhoea
  4. कटिवात lumbago
  5. कटिस्नायुशूल sciatica
  6. दांत दर्द toothache
  7. सामान्य जुखाम  common cold
  8. इन्फ्लूएंजा influenza
  9. रुमेटीइड गठिया, ओस्टियोआर्थराइटिस, संधिशोथ osteoarthritis, rheumatic fever
  10. आघात और सूजन trauma & inflammation
  11. पोस्ट-ऑपरेटिव सूजन post-operative inflammation
इसे भी पढ़ें -  अलप्रोस्टाडिल Alprostadil इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए

डिस्प्रिनटैब की डोज़ क्या है?

प्रत्येक 4-6 घंटे में 300-600 मिलीग्राम ले सकते हैं।

अधिकतम मात्रा 4 ग्राम है।

16 साल से कम उम्र के बच्चों को यह दवा बिना डॉक्टर के निर्देश के न दें। एस्पिरिन और रेयेस डिसीज Reye’s Disease आपस में जुड़े हैं।  बच्चे के लिए जानलेवा हो सकता है।

12 वर्षों के बच्चों में  350 मिलीग्राम की मात्रा एक दिन में दी जा सकती है।

4-12 साल के बच्चों में वज़न के अनुसार 75-100 मिलीग्राम / किग्रा दवा डॉक्टर के द्वारा निर्देशित किये जाने पर दी जा सकती है।

डिस्प्रिन कैसे लें?

  1. एक गिलास पानी में डिस्पिरिन की गोली डालें।
  2. इसे घुला लें और फिर पी लें।
  3. इसे खाने के बाद लें।

डिस्प्रिन किसे नहीं लेनी चाहिए?

  1. हेमोफिलिया haemophilia or haemorrhagic disorders
  2. पेट के अल्सर में  active peptic ulceration
  3. 16 वर्ष से कम आयु में
  4. एस्पिरिन से एलर्जी होने पर
  5. गर्भावस्था
  6. स्तनपान
  7. लीवर रोग
  8. ब्लीडिंग डिसऑर्डर
  9. हृदय रोग
  10. किडनी रोग
  11. डेंगू के मौसम में होने वाला बुखार
  12. डेंगू बुखार
  13. कम प्लेटलेट

There is a possible link between aspirin and Reye’s syndrome when given to children. Reye’s

syndrome is a very rare disease, which affects the brain and liver and can be fatal. For this reason,

aspirin should not be given to children and adolescents under 16 years, unless on the advice of a

doctor.

क्या डिस्पिरिन को दूसरी दवाओं Drug interactions के साथ ले सकते हैं?

बहुत सी दवाएं, इसके साथ इंटरैक्ट करती हैं जिससे दवा का प्रभाव अधिक, कम या अधिक हो सकता है। कृपया कोई दवा ले रहें हैं तो ड्रग इंटरेक्शन ज़रूर देखें।

  • शराब Alcohol
  • Analgin

एस्पिरिन से phenytoin का स्तर बढ़ जाता है, यूरिकोसुरिक्स और स्पिरोनोलैक्टोन का प्रभाव कम हो सकता है Aspirin increases phenytoin levels। May antagonize actions of uricosurics and spironolactone।

कोर्टिकोस्तेरोइड्स Corticosteroids

फेनीबेटाज़ोन और ऑक्सिफेनबुटाज़ोन आंत के अल्सरेशन के खतरे को बढ़ा सकते हैं Phenylbutazone and oxyphenbutazone may increase risk of gi ulceration।

इसे भी पढ़ें -  कीमोथेरेपी कितने प्रकार की होती है

संभावित रूप से घातक: एंटीकोआगुलेंट्स मेथोट्रेक्सेट और हाइपोग्लाइकेमिक्स के प्रभाव को बढ़ा सकता है Potentially fatal may potentiate effects of anticoagulants methotrexate and oral hypoglycaemics

डिस्प्रिन को लेने में विशेष सावधानियाँ Special precautions कब रखें?

  1. अस्थमा या एलर्जी संबंधी विकार Asthma or allergic disorders
  2. निर्जलित मरीजों Dehydrated patients
  3. बुज़ुर्ग Elderly
  4. पेप्टिक अल्सर  History of peptic ulcer or those prone to dyspepsia and those with gastric mucosal lesion
  5. बिगड़ा हुआ गुर्दे या यकृत फंक्शन Impaired renal or hepatic function
  6. अनियंत्रित उच्च रक्तचाप Uncontrolled hypertension

डिस्प्रिन के संभावित साइड-इफ़ेक्ट क्या हो सकते हैं?

एपीडरमल नेक्रोलिसिस rare skin condition called toxic epidermal necrolysis

एलर्जी प्रतिक्रिया Allergic reactions (may consist of wheeziness, runny nose, itchy skin, rash, asthma)

एप्लास्टिक एनीमिया, कम प्लेटलेट की संख्या, कम सफेद रक्त कोशिका की गिनती, अपरिपक्व लाल रक्त कोशिकाएं और कम लाल रक्त कोशिकाएं Aplastic anaemia (symptoms include low platelet counts, low white blood cell count, low count of immature red blood cells and low red blood cells)

आसानी से या खून बहना (थ्रोम्बोसिटोपैनेया)Bruising easily or bleeding (thrombocytopaenia)

बृहदांत्रशोथ Colitis (a condition which can cause abdominal pain, diarrhoea and bleeding from the bowel) or worsening of inflammatory bowel disease (such as Crohn’s Disease)।

बीमार महसूस करना या बीमार होना, दस्त, कब्ज, पेट दर्द Feeling or being sick, diarrhoea, constipation, stomach pain

बुखार, पित्ती, खुजली Fever, hives, itch

सिरदर्द और धुंधला दृष्टि Headache & blurred vision

उच्च रक्तचाप High blood pressure (hypertension)

रक्त में यूरिक एसिड में वृद्धि Increase in uric acid in blood

जिगर या गुर्दा की समस्याएं Liver or kidney problems

मेन्निजिटिस जो किसी जीवाणु स्रोत (एस्प्टिक मेनिन्जाइटिस) के कारण नहीं होता है Meningitis that is not caused by a bacterial source (aseptic meningitis)

मुंह के छालें Mouth ulcers

लंबे समय तक खून बह रहा समय / रक्त की थक्के की क्षमता का नुकसान Prolonged bleeding time/impairment of blood clotting ability

इसे भी पढ़ें -  एंटीफंगल दवाओं की जानकारी

लाल रक्त कोशिकाओं (एनीमिया) की संख्या में कमी, श्वेत रक्त कोशिकाओं (एग्रानुलोसाइटोसिस) और प्लेटलेट्स (पैनैक्सीटोपेनिया) Reduction in the number of red blood cells (anaemia), white blood cells (agranulocytosis) and platelets (pancytopenia)

सोडियम (नमक) बनाए रखना, द्रव को बनाए रखना Retaining sodium (salt), retaining fluid

खुजली, त्वचा के नीचे और श्लेष्म झिल्ली में ऊतक में द्रव का निर्माण होता है जो स्पॉट या गांठ के रूप में प्रकट होता है,  फफोले Skin reactions, itching, fluid build-up in tissue below the skin and in mucous membranes which appears as spots or lumps, blood blisters and occasionally flaking of the skin or rarely changes in skin colour (Steven-Johnson syndrome)

त्वचा की गहरी परतों की सूजन। यह शरीर के किसी भी हिस्से को प्रभावित कर सकता है, लेकिन आमतौर पर आँखें, होंठ, जननांग, हाथ और पैर अधिक प्रभावित हो सकते हैं Swelling of the deeper layers of the skin। This can affect any part of the body but usually eyes, lips, genitals, hands and feet

डिस्प्रिन के संभावित रिएक्शन Adverse drug reactions क्या हो सकते हैं?

  1. श्वसन में दिक्कत  Bronchospasm
  2. सीएनएस का दब जाना जो कोमा कर सकता है Cns depression which may lead to coma
  3. सीवी कोलाप्स और श्वसन विफलता Cv collapse and respiratory failure
  4. आंत में गड़बड़ी Gi disturbances
  5. हेपटोटोक्सिसिटी Hepatotoxicity
  6. विषाक्त ब्रोन्कोस्पैम और सांस लेने में दिक्कत  Paroxysmal bronchospasm and dyspnoea
  7. संभावित घातक: गैस्ट्रिक कटाव Potentially fatal: gastric erosion
  8. लंबे समय तक खून बहना  Prolonged bleeding time
  9. रीय सिंड्रोम (12 साल के बच्चों) Reye’s syndrome (children <12 yr)
  10. नाक में सूजन  Rhinitis
  11. अस्थमा, सांस लेने में रुकावट  Severe occasionally fatal exacerbation of airway obstruction in asthma
  12. कान में आवाज़ आना  Tinnitus
  13. उल्टी और रक्तस्राव Ulceration and bleeding
  14. आर्टिकिरिया और एपिग्रास्ट्रिक असुविधा  वाहिकाशोफ Urticaria and epigastric discomfort angioedema

डिस्प्रिन की प्रेगनेंसी केटेगरी क्या है?

केटगरी सी और डी।

श्रेणी सी: जानवरों में अध्ययन से भ्रूण (teratogenic या भ्रूण या अन्य) पर प्रतिकूल प्रभाव प्रकट हुए हैं और महिलाओं में कोई नियंत्रित अध्ययन नहीं है। ड्रग्स को तब ही दिया जाना चाहिए, जब संभावित लाभ भ्रूण पर होने वाले नुकसानसे अधिक और ज़रूरी हों।

इसे भी पढ़ें -  फ्लुकोनाजोल Fluconazole की जानकारी हिंदी में

अगर तीसरे तिमाही में पूरी खुराक का इस्तेमाल किया जाए तो

श्रेणी डी: मानव भ्रूण के जोखिम का सकारात्मक सबूत है, लेकिन जोखिम के बावजूद गर्भवती महिलाओं में उपयोग से लाभ स्वीकार्य हो सकता है (उदाहरण के लिए, यदि दवा जीवन खतरे में हो या एक गंभीर बीमारी के लिए जरूरी हो, जिसके लिए अन्य कोई भी सुरक्षित दवा नहीं हैं  या अप्रभावी हैं)।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.