सिप्ला सेनेड Cipla Senade Tablet कब्ज और IBS की दवा

सिप्ला सेनेड (Cipla Senade) कब्ज और IBS की दवा है, जानिये इसके घटक, खुराक और साइड इफेक्ट्स क्या हैं और किस स्थिति में सिप्ला सेनेड को नहीं लेना चाहिए और किन लोगों को सिप्ला सेनेड नहीं इस्तेमाल करना चाहिए।

सिप्ला सेनेड टैबलेट, एक लैक्सेटिव है जिसे कब्ज़ में स्टूल को सॉफ्ट करने के लिए दिया जाता है। इसे लेने से कब्ज़ के लक्षणों में राहत होती है। सेनडे टैबलेट में Sennosides सक्रिय संघटक है जो आंत्र की मांसपेशियों को धीरे-धीरे उत्तेजित करके स्टूल को आगे बढ़ाता है।

इसे बार-बार या नियमित नहीं लेना चाहिए क्योंकि इसमें सनाय है। सनाय या स्वर्णपत्री एक आदत बनाने वाली विरेचक है। यदि आप इसे नियमित लेते रहेंगे तो शरीर इसका आदी हो जाएगा और इसके बिना शौच नहीं होगा

दवा लिए जाने के बाद असर 6-12 घंटे में होता है। दवा के सेवन से ऐंठन, कोलिक, पेट में दर्द, उलटी, या / और जी मिचलाना हो सकता है। सेनेड को एक सप्ताह से ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। यदि दवा लेने के बावजूद पॉटी नहीं हो रही तो दवा को नहीं लें। सेना के सेवन से एसिडिक यूरिन का कलर पीला-भूरा और बेसिक युरिन का कलर लाल हो सकता है। विरेचकों का इस्तेमाल उलटी, बिना कारण पता वाले पेट दर्द और आँतों की रुकावट में नहीं करना चाहिए।

इस दवा को एक बार सोने के समय ले सकते हैं। सेना को काम करने के लिए लगभग 8 घंटे लगते हैं इसे सोने के समय लेने से यह रात में काम करता है। दुर्घटना के कारण सेना की एक अतिरिक्त खुराक लेने से आपको नुकसान पहुंचने की संभावना नहीं है। आपको पेट में दर्द और दस्त हो सकता है लेकिन यह एक या दो दिन में कम होना चाहिए।

सभी दवाइयों की तरह, कुछ लोगों में सेना के दुष्प्रभाव हो सकते हैं. लेकिन बहुत से लोगों का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है या केवल मामूली होते हैं। सामान्य दुष्प्रभाव, जो 100 से अधिक लोगों में से 1 या कुछ अधिक को होता है, पेट में ऐंठन और दस्त है। यदि इरीटेबलआंत्र सिंड्रोम से संबंधित कब्ज है तो आप को पेट की ऐंठन और डायरिया हो सकता है। जब आप सेंना लेते हैं तो पेशाब लाल-भूरा क हो सकता है. यह सामान्य है और उपचार समाप्त होने के बाद सामान्य में वापस आ जाता है।

  • जेनेरिक: सेन्ना
  • क्लास: जुलाब
  • मुख्य प्रयोग: कब्ज़
  • निर्माता/ब्रांड: सिपला
  • अवधि: 6-12 घंटे
  • अवशोषण: कुछ अवशोषण
  • वितरण: स्तन दूध में प्रवेश करती है
  • चयापचय: बिना एब्सॉर्डेड सेना का बृहदान्त्र में हाइड्रोलिसिस होता है जिससे सक्रिय एन्थ्रेक्विनांस रिलीज़ होते हैं। अवशोषित सेंना का यकृत में चयापचय होता है।
  • उत्सर्जन: मूत्र और मल में उत्सर्जित
इसे भी पढ़ें -  पैन-डी Uses, Dosage, Side effects, Warnings in Hindi

सिप्ला सेनेड टैबलेट कब इस्तेमाल करते हैं?

सिप्ला सेनेड टैबलेट को कब्ज़ में देते हैं। सेनोसाइड्स ए और बी आंतों की गति में वृद्धि करते हैं। कब्ज़ constipation में स्टूल बहुत हार्ड हो जाता है जिससे शौच के दौरान बहुत दर्द होता है। ऐसे में विरेचक लेने से इस तकलीफ से राहत मिल सकती है।

कब्ज़ Constipation

कब्ज क्या है?

कब्ज को विबंध और कोंसटिपेशन के नाम से जाना जाता है। कब्ज़ होने पर मल बहुत कठोर हो जाता है और कई-कई दिन तक नहीं होता। ऐसे में शौच के समय बहुत जोर लगाना पड़ता है जिससे गुदा छिल जाती है और खून तक बहने लगता है। कब्ज़ के कारण पेट में भारीपन, गैस, दबाव तथा भूख न लगना समेत अनेक समस्याएं हो जाती हैं। कब्ज़ बहुत ही आम समस्या है और हर किसी को कभी न कभी हो जाती है।

कब्ज़ यदि लम्बे समय तक रहे तो बवासीर, फिस्टुला हो जाते है। भूख नहीं लगती और बहुत गैस बनती है। पाचन की विकृति से व्यक्ति कमजोर हो जाता है।

इस कंडीशन को भोजन, व्यायाम, पानी के अधिक सेवन और ज़रूरत हो तो दवा के सेवन से दूर किया जा सकता है।

सिप्ला सेनेड टैबलेट का क्या कम्पोजीशन है?

सेना एक्सट्रेक्ट 13.5 mg ऑफ़ सेनोसोइड्स ए एंड बी।

सेना या सनाय क्या है?

सनाय का लैटिन नाम या वानस्पतिक नाम केसिया अंगस्टीफोलिया है और यह लेगुमिनेसी कुल का बहुवर्षीय पौधा है। इसे हिन्दी में सनाय, अंग्रेजी में इंडियन सेन्ना, राजस्थानी में सोनामुखी कहते हैं। सनाय का पौधा काँटे रहित व झाड़ीनुमा होता है जिसकी ऊँचाई 2 से 4 फुट तथा शाखायें टेढ़ी मेढ़ी होती हैं। शीतकाल में चमकीले पीले रंग के फूल खिलते हैं। इसकी फली हल्के रंग की होती है व पकने पर गहरे भूरे रंग की हो जाती है। बीज भी भूरे रंग के होते हैं।

यह बंजर भूमि में उगता है है तथा इसके पौधे को कोई पशु नहीं खाता। एक बार लगा दिए जाने पर कई वर्षों तक इसका औषधीय प्रयोग किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें -  डिस्प्रिन टैबलेट Disprin Tablet in Hindi

सनाय मुख्य रूप से रेचक और दस्तावर है और इसलिए इसे प्रमुखता से विबंध / कब्ज़ को दूर करने के दवाओं के निर्माण में प्रयोग किया जाता है। इसके अतिरिक्त इसे अन्य बहुत से रोगों जिए की चर्म रोगों, पीलिया, अस्थमा, मलेरिया, बुखार, अपच आदि में भी प्रयोग किया जा रहा है ।

6 साल से कम उम्र के बच्चे को सेना न दें, जब तक कि डॉक्टर द्वारा नहीं कहा जाए।

सेना सभी के लिए उपयुक्त नहीं हो सकता है. सुनिश्चित करें कि सेना आपके लिए सुरक्षित है, चिकित्सक से सेना को शुरू करने से पहले बताएं अगर आपके पास:

  • सेना से एलर्जी की प्रतिक्रिया होती थी
  • आंत्र रुकावट
  • क्रोहन रोग या अल्सरेटिव कोलाइटिस
  • पथरी है.

सिप्ला सेनेड टैबलेट को लेने की मात्रा क्या है?

  • व्यस्क ओर 12 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे Adult & child over 12 yrs: 1 से 3 टेबलेट रात को सोते समय
  • इसे सोने से पहले रात को पानी के साथ लें। ज़रूरत हो तो सुबह फिर से ले।

सिप्ला सेनेड टैबलेट प्रेगनेंसी केटेगरी क्या है?

यदि आप गर्भवती हो या स्तनपान कर रहे हैं तो सेना उपयुक्त नहीं हो सकती है क्योंकि यह आपके पेट से आंशिक रूप से अवशोषित हो जाती है।

केटेगरी सी C – पशु प्रजनन के अध्ययन से भ्रूण पर प्रतिकूलadverse प्रभाव दिखा। गर्भवती महिलाओं पर कोई पर्याप्त, नियंत्रित अध्ययन नहीं किया गया है। लेकिन संभावित लाभ तथा संभावित जोखिम को तौलते हुए इसको डॉक्टरों द्वारा गर्भावस्था में प्रयोग किया जा सकता है।

There are no adequate and well-controlled studies in pregnant women. Animal studies did not show an increase in structural malformations. It should be used during pregnancy only if the potential benefit justifies the potential risk to the fetus.

कब्ज गर्भावस्था में आम समस्या है। यदि आप गर्भवती या स्तनपान करा रही हैं तो दवा लेने के बिना कब्ज को कम करना बेहतर होगा। आप ज्यादा फाइबर खाएं और बहुत सारे तरल पदार्थ पीयें। आप हल्के व्यायामभी करें।

इसे भी पढ़ें -  कैबेरगोलिन Cabergoline Uses, Benefits, Side Effects, Dosages, Warnings in Hindi

आहार और जीवनशैली में परिवर्तन से कब्ज़ को दूर करने की कोशिश करें।

चेतावनी Cautions

  • इसे बहुत लम्बे समय तक इस्तेमाल न करें।
  • अधिक मात्रा में प्रयोग से पेट दर्द, दस्त और शरीर में पानी की कमी हो सकती है।
  • इस दवा का मुख्य घटक सनाय है। सनाय को आंत्र रुकावट, पेट में अज्ञात कारणों के दर्द, पथरी, कोलाइटिस, Crohn’s disease, IBS, बवासीर, नेफ्रोपैथी, प्रेगनेंसी और 12 वर्ष से छोटे बच्चों में न प्रयोग करे ।
  • इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  • इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  • कब्ज़ के कारण को जानने का प्रयत्न करें। कई बार शरीर में किसी प्रकार का रोग जैसे की डायबिटीज, के कारण भी कब्ज़ हो जाता है।
  • खाने में सलाद ज़रूर लें।
  • गर्भावस्था में इसका प्रयोग न करें।
  • दस्त होने पर इसे इस्तेमाल न करें।
  • पानी ज्यादा मात्रा में पियें।

दुष्प्रभाव Side-effects

  • ऐंठन Abdominal cramps
  • दस्त Diarrhoea
  • चक्कर आना Dizziness
  • ढीला स्टूल Loose motions
  • भूख में कमी Loss of appetite
  • मांसपेशी में कमज़ोरी Muscle weakness
  • आंखों या होंठों में सूजन Swelling in eyes or lips
  • त्वचा पर चकत्ते skin rashes
  • यह साइड इफेक्ट की पूरी सूची नहीं है।

कब प्रयोग न करें Contraindications

  • एलर्जी Allergic reactions
  • गर्भावस्था pregnancy
  • अतिसंवेदनशीलता Hypersensitivity
  • आँतों में रुकावट Intestinal obstruction
  • आदि।

यह दवा आपके लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकती है लेकिन आपकी स्थिति का इलाज नहीं करती। दवा को लेने से पहले, अपने चिकित्सक को आपके द्वारा लिए जा रहे उत्पादों (जैसे विटामिन, हर्बल सप्लीमेंट, आदि), व एलर्जी, अन्य कोई रोग, बीमारियों और वर्तमान स्वास्थ्य स्थितियों (जैसे गर्भावस्था, सर्जरी, आदि) के बारे में बताएं। चिकित्सक द्वारा निर्देशित या उत्पाद प्रविष्टि पर मुद्रित दिशा का पालन करें। खुराक आपकी स्थिति पर आधारित है। अपने चिकित्सक को बताएं यदि आपकी स्थिति वैसे ही बनी रहती है या और बुरी हो जाती है। दवा को दृष्टि और बच्चों की पहुंच से बाहर रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

इसे भी पढ़ें -  एमोक्सिसिलिन Amoxicillin गर्भावस्था में यूज़

The primary active constituents of Senade is Sennosides A and B.  It relieves occasional constipation (irregularity), generally produces bowel movement in 6-12 hours. It is habit forming laxative and hence should be used occasionally only.

Anatomic alteration of the colon is seen secondary to chronic use with Senna (more than three times weekly for 1 year or longer). The result is a loss of haustral folds, a finding that suggests neuronal injury or damage to colonic longitudinal musculature.

  • Do not take during without consulting doctor.
  • Do not use many different medicines for the treatments of same disease.
  • Elderly patients should initially take half of the normal prescribing dose.
  • If you take warfarin, do not take excessive amounts of Senna.
  • In rare cases, prolonged use of Senna may lead to cardiac arrhythmias, nephropathies, edema and accelerated bone deterioration.
  • In some people, Senna can cause diarrhea. Diarrhea can increase the effects of warfarin and increase the risk of bleeding.
  • Keep away from the sight and reach of children.
  • Laxatives containing anthroquinone glycosides should not be used at a high dose for more than 2 weeks at a time due to the potential risk of causing an electrolyte imbalance.
  • Long-term use of Senna may lead to loss of electrolytes, in particular potassium ions. As a result of hypokalemia, hyperaldosteronism, albuminuria, hematuria, inhibition of intestinal motility, and muscle weakness may occur. Enhancement of cardioactive glycosides and anti-arrythics may also occur with hypokalemia.
  • Please maintain a gap of at least an hour between intake of any allopathic drug and Ayurvedic medicine to avoid drug interaction, if any.
  • Prolonged use of Senna may lead to melanosis coli.
  • Senna abuse has also resulted in tetany, aspartyl glucosamine excretion and hypogammaglobulinemia.
  • Senna abuse has resulted in finger clubbing, which was reversible upon discontinuation of the drug.
  • Senna can reduce the amount of estrone in the body.
  • Senna containing medicines should not be used regularly.
  • Senna intake along with diuretic might decrease potassium in the body.
  • Senna may reduce the absorption of iron.
  • Senna should not be used by people with abdominal pain (either diagnosed or undiagnosed), intestinal blockage, Crohn’s disease, ulcerative colitis, appendicitis, stomach inflammation, anal prolapse, or hemorrhoids.
  • Senna should not be used in people with dehydration, diarrhea, or loose stools. It can make these conditions worse.
  • Senna use should be avoided in children below the age of 12 years.
  • Sennosides irritate the lining of the large intestine, causing contraction.
इसे भी पढ़ें -  एस्पिरिन Aspirin एसिटाइल सैलिसिलिक एसिड

Related Posts

बच्चों में कब्ज के लिए इलाज, खाना और घरेलू उपचार
बच्चों को कब्ज कैसे होती और और उसके लक्षण क्या होते हैं
कब्ज के लिए उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ
कब्ज : कारण, लक्षण और इलाज | Constipation in hindi
कब्ज के लिए घरेलू उपचार और उपाय इन हिंदी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.