बोटॉक्स इंजेक्शन प्राइस इन इंडिया और जानकारी

बोटॉक्स इंजेक्शन को मुख्य रूप से माथे पर पड़ी झुर्रियों को हटाने के इस्तेमाल के लिए जाना जाता है लेकिन इसे गर्दन के ऐंठन, अत्यधिक पसीना, ओवरएक्टिव मूत्राशय और आँखों के भैंगेपन आदि समस्याओं का इलाज करने के लिए भी उपयोग किया जाता है। जानिये बोटॉक्स इंजेक्शन प्राइस इन इंडिया।

बोटॉक्स इंजेक्शन (Botox injections) एक कॉस्मेटिक उपचार है जिसे मांसपेशियों को रिलैक्स करने और आपके चेहरे पर लाइनों और झुर्रियों को कम करने के लिए बनाया गया है। माथे या आँखों के पास इस इंजेक्शन के इस्तेमाल से मसल्स एक्टिविटी कम हो जाती है जिससे अस्थाई रूप से झुर्रियां दूर हो जाती हैं। यह इंजेक्शन केवल वयस्कों,  18-65 वर्ष के महिला या पुरुष, के लिए हैं और मुख्य रूप से माथे और आँखों के पास की रिंकल्स के लिए इस्तेमाल होता है। इसे होंठ, निचले चेहरे, गर्दन, और यहां तक ​​कि मुस्कुराहट की समस्या में भी इतेमाल किया जाता है।

बोटॉक्स इंजेक्शन Botulinum type A injections में बोटिलिनम टोक्सिन होते हैं जोकि खाद्य विषाक्तता बोटुलिज़्म food poisoning botulism के लिए जिम्मेदार सूक्ष्म जीवों द्वारा निर्मित होते हैं। बोटॉक्स इंजेक्शन के प्रयोग से मांसल गतिविधि अस्थायी रूप से पंगु paralyze होती है।

बोटॉक्स इंजेक्शन को मुख्य रूप से माथे पर पड़ी झुर्रियों को हटाने के इस्तेमाल के लिए जाना जाता है लेकिन इसे गर्दन के ऐंठन cervical dystonia, अत्यधिक पसीना hyperhidrosis, ओवरएक्टिव मूत्राशय overactive bladder और आँखों के भैंगेपन आदि समस्याओं का इलाज करने के लिए भी उपयोग किया जाता है।

सभी बोटॉक्स इंजेक्शन एक जैसे नहीं होते। प्रत्येक उत्पाद थोड़ा अलग है और इसलिए एक की जगह या एक के बदले दूसरा इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। इस इंजेक्शन का कोई जेनेरिक फार्मूला नहीं है।

बोटॉक्स इंजेक्शन कैसे काम करते है?

बोटॉक्स इंजेक्शन नसों से उन रासायनिक संकेतों को अवरुद्ध करते हैं जो मांसपेशियों को सिकोड़ते हैं। इन इंजेक्शन का सबसे आम उपयोग अस्थायी रूप से चेहरे की मांसपेशियों को आराम देने के लिए होता है जो झुर्रियाँ पैदा करती हैं, जैसे:

  • भौहों के बीच में फ्राउन लाइन्स Frown lines
  • क्रो-फीट Crow’s-feet जो की आँखों के कोनों पर होती हैं
  • फॉरहेड फरो Forehead furrows जो की माथे पर लाइन्स हैं
  • क्रो-फीट के लिए ऑर्बिक्युलरस ओकिली orbicularis oculi, के 3 क्षेत्रों में 3 इंजेक्शन लगेंगे। दूसरी आँख के इन्ही एरिया में भी 3 इंजेक्शन लगेंगे।
  • माथे के लिए 5 इंजेक्शन लगते हैं।
इसे भी पढ़ें -  पॉलीबीऑन एल Polybion L Syrup  (for Growth and Development) in Hindi

बोटिलिनम इंजेक्शन (Botox injections) का उपयोग उन स्थितियों का इलाज करने के लिए भी किया जाता है जो आपके शरीर के कार्यों को प्रभावित करते हैं। उदाहरणों में शामिल:

  • सरवाइकल डाइस्टोनिया Cervical dystonia
  • क्रोस ऑय Lazy eye
  • स्नायु अनुबंध Muscle contractures
  • अत्यधिक पसीना आना Hyperhidrosis
  • गंभीर माइग्रेन Chronic migraine
  • मूत्राशय की शिथिलता Bladder dysfunction

मुझे बोटॉक्स इंजेक्शन के लिए कैसे तैयारी करनी चाहिए?

Loading...
  • डॉक्टर के साथ प्रक्रिया के बारे में डिस्कस करें।
  • आपको पता होना चाहिए कि कितनी यूनिट इंजेक्ट की जाएंगी और प्रति यूनिट का दाम कितना है।
  • बोटॉक्स इंजेक्शन प्राइस इन इंडिया Botulinum toxin type A के 50 यूनिट्स का बॉक्स करीब 10, 000 रुपए का होता है। बहुत से क्लिनिक एक यूनिट के लिए 250 रुपए चार्ज करते हैं। कितनी यूनिट लगेंगी इस हिसाब से यूनिट का दाम होता है। इसके अलावा कंसल्टेशन, डॉक्टर की फीस और क्रीम आदि की भी कीमत होती है।

बोटॉक्स(Botox injections) लगवाने के समय क्या होता है?

बोटॉक्स इंजेक्शन (Botox injections) को लगवाते समय ज्यादा दर्द या समस्या नहीं होती क्योंकि डॉक्टर स्किन एरिया को सुन्न करने के लिए इंजेक्शन लगा देते हैं। एरिया के सुन्न होने पर बोटॉक्स लगवाने से केवल चुभन महसूस होती है। वास्तविक इंजेक्शन प्रक्रिया में लगभग 10 मिनट लगते हैं।

बोटॉक्स इंजेक्शन लगाने से पहले

  • डॉक्टर आपकी त्वचा में सुन्न करने वाली दवा का इंजेक्शन लगा सकता है।
  • क्रीम को 60 से 90 मिनट पहले लगाया जा सकता है।
  • त्वचा पर कोल्ड स्प्रे कुछ सेकंड किया जाता है।

बोटॉक्स इंजेक्शन लगाते समय

डॉक्टर नीडल से त्वचा या मांसपेशियों में छोटी मात्रा में बोटिलिनम टोक्सिन इंजेक्ट करता है। कितने इंजेक्शन लगाने होंगे यह कई कारकों पर निर्भर है, जिसमें इलाज किये जा रहा चमड़ी का  क्षेत्र भी शामिल है।

बोटॉक्स इंजेक्शन प्रक्रिया के बाद

  • उपचारित क्षेत्रों को रगड़ना या मालिश करना नहीं है।
  • इससे टोक्सिन दूसरे क्षेत्र में स्थानांतरित हो सकता है।
  • प्रक्रिया के तुरंत बाद अपनी सामान्य दैनिक गतिविधियों को फिर से शुरू कर सकते हैं।
इसे भी पढ़ें -  वोलिनी जेल Volini Pain Relief Gel

बहुत से लोग चार से पांच दिनों के भीतर परिणाम देखते हैं, लेकिन पूरे परिणामों के लिए दो सप्ताह लग सकते हैं । प्रक्रिया के बाद चेहरे पर से झुर्रियों और रेखायें कम दिखनी चाहिए, जिससे आप अअपनी उम्र से कम दिखें। यह रिजल्ट केवल 3-4 महीने रहते हैं और ट्रीटमेंट कराना पड़ता है।

बोटॉक्स इंजेक्शन के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

बोटॉक्स इंजेक्शन (Botox injections) अपेक्षाकृत सुरक्षित हैं यदि इन्हें एक अनुभवी चिकित्सक द्वारा लगाया जाता है। ऐसा डॉक्टर की तलाश करें जो आपकी स्थिति में विशेषज्ञता प्राप्त करता है और बोटॉक्स उपचार में अनुभवी है । एक कुशल और ठीक तरह से प्रमाणित डॉक्टर आपको प्रक्रियाके बारे में सलाह दे सकता हैं और यह निर्धारित करने में सहायता कर सकते हैं कि क्या यह आपकी आवश्यकताओं और स्वास्थ्य के लिए सबसे उपयुक्त है।

सबसे आम साइड इफेक्ट्स में हैं इंजेक्शन साइट में सूजन-चोट लगना, सिरदर्द या फ्लू जैसे लक्षण। यदि इंजेक्शन सही तरीके से गैप पर नहीं लगाए जाते हैं, तो दवा आस-पास के ऊतकों में फैल सकती है और समस्याएं पैदा कर सकती हैं जैसे:

  • पलकें नीचे झुकी दिखना
  • भौहें ठीक नहीं लग्न
  • मुस्काराने में समस्या
  • सूखी आंख या अत्यधिक आंसू निकलना
  • दुर्लभ सम्भावना है कि बोटिलिनम टोक्सिन का प्रभाव शरीर के अन्य हिस्सों में फैल सकता है और बोटुलिज़्म जैसे लक्षण पैदा कर सकता है।

कुछ संभावित बोटॉक्स जटिलताएं खराब इंजेक्शन या गलत डोज़ से होती हैं। यदि इंजेक्शन गलत तरीके से लगाया जाता है, तो बोटॉक्स अनजाने में अन्य क्षेत्रों में फैल सकता है और ड्रोपिंग पलकें, क्रूक्ड स्माइल, क्रूक्ड आइब्रो या इसी तरह की जटिलताओं का कारण बना सकता है। यदि बहुत अधिक बोटॉक्स इंजेक्ट किया जाता है, तो चेहरे पर कोई ब्भाव नहीं आते और व्यक्ति में फ्रोज़न लुक होता है।

निम्न समस्या होने पर डॉक्टर को दिखाएँ:

  • पूरे शरीर में मांसपेशियों की कमज़ोरी
  • देखने में समस्या
  • बोलने या निगलने में परेशानी
  • साँस लेने में कठिनाई
  • मूत्राशय पर कंट्रोल खो देना
इसे भी पढ़ें -  बेनाड्रिल Benadryl Cough Syrup Tablet Detail and Uses in Hindi

बोटुलिनम इंजेक्शन आमतौर पर उपचार के कुछ दिनों बाद काम करना शुरू करते हैं। इलाज की समस्या के आधार पर, प्रभाव तीन से 12 महीनों तक हो सकता है। प्रभाव को बनाए रखने के लिए, आपको नियमित इंजेक्शन की आवश्यकता होगी। गर्भवती हों या स्तनपान कराने के दौरान बोटॉक्स नहीं लगाया जाता।

Botox injections contains tiny amounts of a highly purified botulinum toxin protein refined from the bacterium, Clostridium botulinum. Potency, formulation and approved doses of injection may differ and hence one product cannot take the place of another. There is no generic formula for this injection.

Side effects include eyelid drooping, eyelid swelling, dry mouth, discomfort or pain at the injection site, tiredness, headache, neck pain, eye problems: double vision, blurred vision, decreased eyesight and dry eyes, and allergic reactions.

Botox is a prescription drug. It is administered by a physician.

The process is need to repeated after 3-4 months. Though, there is no defined limit to the number of injections one can have but the body’s immune system is capable of developing antibodies to the Botox molecule which can render it ineffective at some point in the future.

Loading...

2 Comments

  1. Hello sir ji.
    Cervical dystonia me hme kitne injection lgaane pdte he .
    Plzz replay me…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.