अल्कासोल Alkasol के बारे में जानकारी

जानिये अल्कासोल को किन रोगों में प्रयोग करते हैं और इसका कम्पोज़िशन क्या है, अल्कासोल को कैसे लेते हैं इसकी मात्रा कितनी होती है। जानिये अल्कासोल के क्या सड़े इफ़ेक्ट होते हैं और इसे किन लोगों को सावधानी के साथ लेना चाहिए।

एलोपैथिक दवाई अल्कासोल, का जेनेरिक फार्मूला डाईसोडियम हाइड्रोजन सिट्रट Disodium Hydrogen Citrate है। यह शरीर में मेटाबोलाइज्ड metabolized होकर खून में सोडियम बाईकार्बोनेट बनाती है और फ्री बाईकार्बोनेट आयन Bicarbonate ions छोड़ती है। बाईकार्बोनेट खून का पीएच सात pH 7 (न्यूट्रल) करने में मदद करता है। बाईकार्बोनेट जो खून में बनते हैं वे मूत्र में भी जाते हैं और मूत्र के एसिड को कम कर उसे क्षारीय alkaline बनाते हैं। क्षारीय होने को इंग्लिश में अल्कलाइन कहते हैं और इसलिए दवा को नाम अल्कासोल दिया गया है।

अल्कासोल खून तथा पेशाब को अल्कलाइन करती है और स्टोन बनने को कम करती है। इससे स्टोंस निकलने में भी मदद होती है। किडनी स्टोन, बाईकार्बोनेट आयन के कारण टूट सकते हैं और पेशाब के रास्ते शरीर से निकाले जा सकते हैं।

Disodium Hydrogen Citrate is an anticoagulant and an alkalizer. Anticoagulants is an agent that help to prevent blood clots. They are given to people at a high risk of getting clots to reduce chances of developing serious conditions such as strokes and heart attacks.  Alkalizer is an agent that counteracts or neutralizes acidity (especially in the stomach).

Sodium citrate is an alkalinizing agent. It works by neutralizing excess acid in the blood and urine.

  • जेनेरिक: डाईसोडियम हाइड्रोजन सिट्रट सलूशन
  • ब्रांड नाम: अल्कासोल
  • मुख्य प्रयोग: मूत्र को क्षार करना-एसिड कम करना
  • संरचना: हर 5ml में डाईसोडियम हाइड्रोजन साइट्रेट बीपी 1.4 ग्राम
  • प्रस्तुति: बोतल पैक के रूप में
  • कार्रवाई की शुरुआत: एक घंटे के भीतर
  • कार्रवाई की अवधि: 4-6 घंटे
  • निर्माता: Stadmed Pvt. Ltd. KOLKATA

अल्कासोल को किन रोगों में प्रयोग करते हैं?

अल्कासोल के चिकित्सीय उपयोग निम्न हैं:

  1. गुर्दे की पथरी Kidney Stone
  2. गुर्दे ट्यूबलर एसिडोसिस Renal tubular acidosis
  3. डायरिया के बाद एसिडोसिसAcidosis following diarrhea
  4. पेशाब को कम एसिडक करना Alkalinizing urine
  5. पेशाब में जलन Burning micturition
  6. पेशाब में दर्द Dysuria in cystitis
  7. मूत्र पथ के संक्रमण Urinary Tract Infection
  8. यूरिक एसिड की पथरी Uric acid stones
  9. यूरेमिक एसिडोसिस Uremic acidosis
  10. रक्त या मूत्र में एसिड की मात्रा कम करना neutralizing excess acid in the blood and urine
इसे भी पढ़ें -  पॉलीबीऑन एस एफ का उपयोग और फायदे Polybion SF Syrup

अल्कासोल किन रूपों में उपलब्ध है?

Availability

यह सिरप के रूप में उपलब्ध है।

अल्कासोल का कम्पोज़िशन क्या है?

प्रत्येक 5 ml में

डाईसोडियम हाइड्रोजन सिट्रेट 1.4gram और सैकरीन।

अल्कासोल की डोज़ क्या है?

Dose

वयस्क: 5-10 ml या 1-2 टी स्पून

बच्चे 12 वर्ष से कम: 2.5-5ml या 1/2 से 1 टीस्पून

इसे दिन में 2-4 बार ले सकते हैं।

अल्कासोल को कब नहीं लेना चाहिए?

Contraindications

  1. एडिमा oedema
  2. गुर्दे की खराबी Renal impairment
  3. सोडियम न लेने की सलाह में Patient on Sodium restricted diet
  4. हाइपरओस्मोलर सिंड्रोम Hyperosmolar syndrome (HHS) complication of diabetes mellitus in which high blood sugar results in high osmolarity without significant ketoacidosis

अल्कासोल किन लोगों को सावधानी से लेनी चाहिए?

Precautions

  1. एल्कालोसिस alkalosis
  2. कैल्शियम का ब्लड सीरम में कम होना Hypocalcaemia
  3. गर्भावस्था और स्तनपान Pregnancy and breastfeeding
  4. गुरदे की बीमारी Renal disease
  5. बच्चे Children
  6. बड़ी उम्र के लोग Elderly
  7. शरीर में पानी की कमी Dehydration
  8. हाइपोवेनेटेटरी स्टेट्स, कार्बन डाइऑक्साइड की खून में अधिक मात्रा hypoventilatory states

अल्कासोल प्रेगनेंसी केटेगरी क्या है?

केटेगरी बी B – गर्भवती महिलाओं पर कोई पर्याप्त, नियंत्रित अध्ययन नहीं किया गया है। पशु प्रजनन पर किये गए अध्ययन भ्रूण के लिए खतरा failed to demonstrate a risk to the fetus नहीं दिखा सके।

इसे प्रेगनेंसी में सावधानी ( Caution in toxaemia of pregnancy) से लेने की ज़रूरत है।

इसे बिना डॉक्टर की सलाह के न लें। इसके सेवन से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है औए शरीर में द्रव्य प्रतिधारण / फ्लूइड रिटेंशन हो सकता है। डॉक्टर आपकी सेहत, कंडीशन और ज़रूरत को देखते हुए दवा प्रेसक्राइब करेंगें। अगर आपको पहले से ही उच्च रक्तचाप की शिकायत है तो इसे नहीं लें।

कोई भी दवा शरीर पर कोई न कोई साइड इफ़ेक्ट ज़रूर डालती है। इसलिए बिना डॉक्टरी सलाह के कोई दवा गर्भावस्था में न लें।

यह दवा का अन्य किन दवाओं से इंटरैक्ट कर सकती है?

Drug Interactions

  1. सैलिसिलेट्स और बार्बिटुरेट्स का उन्मूलन बढ़ाता है Enhances elimination of salicylates and barbiturates
  2. क्विनिडीन के हाफ लाइफ में वृद्धि हो सकती है May increase the half-life of quinidine
  3. एफेड्रिन Ephedrine
  4. स्यूडोएफेड्रिन Pseudoephedrine
  5. कोर्टिकॉस्टिरॉइड्स की वजह से सोडियम प्रतिधारण अधिक होना Additive effect with Na retention caused by corticosteroids
  6. टेट्रासाइक्लिन के गुर्दे के उत्सर्जन को ज्यादा करता है Potentiates renal excretion of tetracycline
  7. सहवर्ती पोटैशियम कम करने वाले मूत्रवर्धक के साथ Hypochloraemic alkalosis हो सकता है
  8.  Hypochloraemic alkalosis may occur with concomitant K-depleting diuretics
इसे भी पढ़ें -  डिस्प्रिन टैबलेट Disprin Tablet in Hindi

अल्कासोल के साइड इफ़ेक्ट क्या हो सकते हैं?

Adverse Effects

  1. अधिक पेशाब होना Mild diuresis
  2. पेट में ऐंठन Stomach cramps
  3. पेट फूलना Flatulence
  4. दस्त Diarrhea
  5. आंत्र में अल्सरेशन GI ulceration
  6. हाईपोक्लेमिया Hypokalaemia
  7. मेटाबोलिक क्षारोग Metabolic alkalosis
  8. थकान Tiredness
  9. सांस लेने में दिक्कत Dyspnea
  10. चिंता Anxiety
  11. मूड स्विंग Mood swings
  12. यह साइड इफेक्ट की पूरी सूची नहीं है।

अल्कासोल कैसे स्टोर करें?

Storage

इसे रौशनी और तेज गर्मीं से दूर रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.