रोगों से होने वाले बाँझपन का इलाज

जानिये अगर किसी को बीमारी की वजह से बाँझपन है तो वो कैसे इलाज करा सकती हैं? बाँझपन की बिमारियों का इलाज करने के उपाय और क्या तरीके होते हैं?

कभी-कभी बांझपन पैदा करने वाली बीमारियों के लिए विशिष्ट उपचार कभी-कभी उर्वरता (fertility) भी सुधार सकते हैं यह पोस्ट तीन विशिष्ट स्थितियों पर केंद्रित है; देखें: गर्भाशय फाइब्रॉएड के लिए क्या उपचार हैं? गर्भाशय फाइब्रॉएड के उपचार के बारे में अधिक जानकारी के लिए जिससे प्रजनन क्षमता भी प्रभावित हो सकती है। अन्य रोगों जैसे कि थायराइड के लिए उपचार, महिलाओं में प्रजनन क्षमता में सुधार कर सकते हैं, जिनको ये बीमारियाँ है।

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के लिए उपचार

पीसीओएस के लिए विशिष्ट उपचार हैं जो कि एक महिला को गर्भवती होने में मदद कर सकते हैं।

पीसीओ के साथ महिलाओं में बांझपन के लिए उपचार शामिल हैं :

वजन में कमी । पीसीओ के साथ महिला जो वजन कम करती हैं, वे ओवुलेशन और बेहतर गर्भावस्था दर को बहाल करने की संभावना रखती हैं।

ovulation बढ़ावा देने के लिए दवा: पीसीओएस के साथ महिलाओं में बांझपन के लिए क्लॉम्पेन (Clomiphene) सबसे सामान्य उपचार है। अध्ययनों से पता चला है कि पीसीओएस के साथ महिलाओं में, जो क्लॉम्फेन ( Clomiphene) लेती है उनमे न लेनी वाली महिलावाओं की तुलना में गर्भवती होने की संभावना छह गुना ज्यादा थी। हालांकि, एक हालिया अध्ययन में पाया गया कि नई दवा, letrozole, जिसे फेमार भी कहा जाता है, पीसीओएस के साथ महिलाओं में गर्भाशय की परत की ग्रहण क्षमता में सुधार करती है।

इंसुलिन संवेदनशील दवा: मेटफॉर्मिन नामक एक दवा मधुमेह का इलाज करती है और पीसीओएस के साथ महिलाओं में मासिक धर्म चक्र और ओव्यूलेशन को बेहतर बनाने में भी मदद कर सकती है। मेटफोर्मिन का प्रयोग मासिक धर्म चक्र को प्रभावित करने वाले हार्मोन को रेगुलर करने में मदद कर सकता है, लेकिन अब तक कोई सबूत नहीं है कि पीसीओएस के साथ महिलाओं में गर्भावस्था की दर को मेटफॉर्मिन का उपचार बढ़ता है।

Clomiphene और metformin का कॉम्बिनेशन: PCOS के साथ महिलाओं में जिनको clomiphene असर नहीं करत , मेटफॉर्मिन के साथ देने से गर्भावस्था की दर में थोड़ी वृद्धि हो सकती है।

इसे भी पढ़ें -  फर्टिलिटी प्रिजर्वेशन क्या होता है What is fertility preservation?

हार्मोन थेरेपी (Hormone therapy): गोनैडोट्रोपिन(Gonadotropins) और एचसीजी(hCG) उन महिलाओं के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाले हार्मोन के प्रकार हैं, जिनको क्लॉम्फेन और / या मेटफोर्मिन असर नहीं करती हैं।

प्रजनन उपचार (Fertility treatments): एआरटी( ART), जैसे आईवीएफ, पीसीओडी के साथ महिलाओं को गर्भवती होने में मदद कर सकती है।

सर्जरी(Surgery): Ovarian ड्रिलिंग एक सर्जिकल उपचार है जो पीसीओएस ( PCOS) वाली महिलाओं में ओव्यूलेशन को प्रोत्साहित कर सकता है। आमतौर पर पेट के निचले हिस्से के पास एक छोटा सा चीरा के माध्यम से प्रक्रिया होती है, जिसमें general anesthesia के तहत महिला बेहोश होती है। अंडाशय के कुछ हिस्सों को नष्ट करने के लिए एक लेजर या electrocautery (गर्मी का उपयोग कर ऊतक को नष्ट करने वाली एक प्रक्रिया) का उपयोग किया जाता है यह सर्जरी आमतौर पर इस्तेमाल नहीं की जाती है लेकिन यह उन महिलाओं के लिए एक विकल्प हो सकता है जो वजन कम करने और प्रजनन दवाओं की कोशिश करने के बाद भी ovulating नहीं कर प् रही हैं। PCOS के साथ महिलाओं के अध्ययन से पता चला है कि ovarian ड्रिलिंग का परिणाम 80% ओवुलेशन दर और 50% गर्भावस्था दर में सफल होता है।

एंडोमेट्रिओसिस(endometriosis) के लिए उपचार

Loading...

एंडोमेट्रियोसिस के लिए विशिष्ट उपचार मौजूद हैं।

एंडोमेट्रियोसिस के साथ होने वाली बांझपन के लिए उपचार शामिल हैं:

एंडोमेट्रियोसिस की वजह से ऊतक के पैच को हटाने के लिए सर्जरी गर्भवती होने की एक महिला की संभावना में सुधार कर सकती है कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि एंडोमेट्रियोसिस का शल्य चिकित्सा उपचार गर्भावस्था दर को दोगुना कर सकता है।

एआरटी, जो एंडोमेट्रिओसिस के साथ महिलाओं में गर्भवती होने की संभावना में सुधार कर सकती है।

Treatments for Primary Ovarian Insufficiency (POI)

वर्तमान में पीओआई के साथ महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाले कोई भी उपचार नहीं हैं हालांकि, पीओआई वाली महिलाएं एआरटी का उपयोग कर सकती हैं और किसी दुसरे के egg (अंडा दाता) की मदद से गर्भवती हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ें -  इनफर्टिलिटी डायग्नोसिस Infertility Diagnosis and Fertility Test

Related Posts

इनफर्टिलिटी डायग्नोसिस Infertility Diagnosis and Fertility Test
टेस्टोस्टेरोन की कमी से नपुंसकता | Infertility by Low Testosterone
IVF-IUI एआरटी Assisted Reproductive Technology (ART) in Hindi
पेल्विक इन्फ्लेमेटरी बीमारी (पीआईडी) लक्षण और उपचार
टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम जानकारी, लक्षण और उपचार | Testosterone

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!