गर्मियों में क्या खाना चाहिए

गर्मियों का मौसम मतलब गर्म हवा, चिलचिलाती धूप और ऊँचा पारा। गर्मियों में खान पान में चूक से बहुत से स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती है। गर्मी में शरीर में पानी की कमी एक आम समस्या है जिससे बहुत से लोग कम ऊर्जा स्तर का अनुभव करते हैं। पानी की कमी के साथ साथ इलेक्ट्रोलाइट का असंतुलन भी आम है।

इसलिए, गर्म मौसम के दौरान हमे अपने खाने और पीने को लेकर बहुत सजक रहने के जरुरत है। साथ ही जीवनशैली में बदलाव भी किया जाना चाहिए। भोजन में ठंडे खाद्य पदार्थों को शामिल किया जाना चाहिए जिससे आपको गर्म जलवायु के प्रभावों से लड़ने में मदद हो सके।

मौसम के अनुकूल खाद्य पदार्थ ही खाएं

ग्रीष्मकालीन मौसम में मिलने वाले सब्जी और फल तासीर में ठन्डे होते हैं तथा पानी से भरे हुए होते हैं। इसमें सारी हरी सब्जियां, तरबूज, आड़ू, आम और अन्य ताजी और सुगंधित जड़ी-बूटियाँ जैसे पुदीना, धनिया शामिल हैं। स्थानीय बाजार से आपको गर्मियों के दौरान मौसमी फलों और सब्जियों को लाना चाहिए और खाना चाहिए।

जो फल सब्जी, गर्मियों के नहीं है उन्हें नहीं खरीदें क्योंकि उनमें रसायनों और परिरक्षकों हो सकते है या फिर वे कोल्ड स्टोरेज से लाये जा रहे हो सकते हैं।

गर्मियों के सबसे अच्छे, रसदार और पानी से युक्त फल सब्जी हैं। वे पेट के लिए अच्छे हैं, पानी से भरपूर हैं और आसानी से पचने वाले भी है।

तरबूज

तरबूज में लगभग 90 प्रतिशत पानी होता है, इसलिए यह निस्संदेह अपने आप को हाइड्रेटेड रखने का सबसे अच्छा तरीका है। यह पाचन में मदद करता है और पेट को ठंडा रखता है।

ख़रबूज़े

ख़रबूज़े पानी से भरा हुए होते हैं। यह हाइड्रेटेड रहने में आपकी मदद करते हैं और आपको ठंडक और ताजगी देते हैं। ख़रबूज़े पोटेशियम में समृद्ध होते हैं जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है और उच्च रक्तचाप को कम रखता है। उनमें बीटा-कैरोटीन, फोलिक एसिड, पोटेशियम, विटामिन सी और ए, आदि होते है जो आपको स्वस्थ रहने में मदद करते है। यह आपकी त्वचा और बालों के लिए भी बहुत अच्छा है।, जो आंखों की दृष्टि को तेज करने के साथ-साथ मोतियाबिंद के विकास के जोखिम को कम करने में मदद करता है । खरबूजे में नगण्य वसा सामग्री होती है।

इसे भी पढ़ें -  कैफीन : अर्थ, लाभ और खतरे | Caffeine

ककड़ी

ककड़ी गर्मी में मिलती है। इसे खाने से पानी की कमी दूर होती है। यह कब्ज को दूर रखने में मदद करती है।

आम पन्ना

कच्चे आम से बना आम पन्ना पीने में बहुत टेस्टी और स्वाथ्यप्रद होता है। आम पन्ना पाचन, कब्ज और पेट की पुरानी समस्याओं जैसे इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम में मदद करता है।

लौकी या बॉटल गोर्ड

लौकी में कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन ए, सी और फोलेट आदि होते है। यह सब्जी उच्च रक्तचाप पर अच्छा काम करती है, हृदय को स्वस्थ रखती है और एक उत्कृष्ट रक्त शोधक मानी जाती है। इसका आप रस निकाल कर पी सकते हैं। पर धायं रहे रस निकालने से पहले लौकी को चख लें। कडवी लौकी का सेवन नहीं करें क्योंकि कडवी लौकी अल्कालॉयड युक्त होती है जो शरीर में जहर जैसा काम करती है।

नारियल पानी

नारियल पानी गर्मियों का अच्छा और सुलभ पेय है। यह ‘आसानी से मिला जाता है औरआवश्यक विटामिन, खनिज और अन्य पोषक तत्वों से भरा होता है। तासीर में ठंडा होने से यह ठंडक और ताजगी देता है। इसमें इलेक्ट्रोलाइट भी होते हैं जो शरीर में इलेक्ट्रोलाइट की कमी को दूर करने में मददगार हैं। किसी भी कोल्ड ड्रिंक, एनर्जी ड्रिंक या मार्किट में मिलने वाले पेय के बजाए इसे पियें।

नींबू पानी

निम्बू पानी, गर्मियों के लिए एक और ताज़ा पेय है। निम्बू पानी आपको दिन भर ठंडा और तरोताजा रखता है। यह विटामिन सी का समृद्ध स्रोत है और शरीर को प्रतिरक्षा प्रणाली की कमियों को ठीक करता है। रोज सुबह पानी के साथ नींबू का रस पीने से शरीर का पीएच संतुलन बनाए रखने में मदद मिलती है। साथ ही विटामिन सी , नींबू भी की एक समृद्ध स्रोत हैं पोटेशियम , कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम आदि भी पाए जाते हैं। थोडा नमक और जीरा पाउडर मिलाकर पीने से इसका टेस्ट भी सही हो जाता है साथ ही शरीर में नमक की कमी भी दूर होती है।

इसे भी पढ़ें -  मुँह से लार बहना: कारण, लक्षण और उपचार | drooling

छाछ, लस्सी

दही का ही पतला रूप है छाछ, लस्सी। इसे पीने से शरीर में ठंडक और ताजगी आती है। छाछ पीने से पाचन क्रिया ठीक प्रकार से होती है।इसमें आप भुने जीरे का पाउडर और काला नमक मिला सकते हैं।

पुदीना

पुदीना आपके शरीर के तापमान को ठंडा रखता है बल्कि आपको तरोताजा भी करता है। पुदीना पाचन को ठीक रखता है, गैस के दर्द और असुविधा से राहत देता है । पुदीने का सेवन दिन के समय ताजा और ऊर्जावान रहने का यह सबसे आसान तरीका है।

प्याज

प्याज शरीर को ठंडक प्रदान करता है। प्याज में नींबू और नमक मिलाकर इसका सेवन करें। दैनिक आहार में प्याज को शामिल करना भी आपको सन-स्ट्रोक से बचाने में मदद करता है।

प्याज कोलेस्ट्रॉल कम करता है, धमनियों को सख्त होए से बचाता है, रक्त वाहिकाओं की लोच बढ़ाता है, और स्वस्थ रक्तचाप को बनाए रखने में मदद करता है। प्याज खाने से आपका रक्त शर्करा और आपका वजन सही हो सकता है।

हरी सब्जियां

गर्मियों की सब्जियों में परवल, लौकी, हरी पत्तेदार शाक विशेष रूप से फायदेमंद है। पत्तेदार साग सूजन को कम करने और शरीर को साफ़ करने में मदद करते हैं।

गर्मी के दिनों में में हलके, पतले और ठंडी तासीर वाले और चिकनाई वाले पदार्थों का सेवन किया जाना चाहिए। गर्म तासीर का भोजन, बासी भोजन अथवा गरिष्ठ भोजन नहीं किया जाना चाहिए। गर्मियों में रात का भोजन हल्का होना चाहिए क्योंकि रात में भारी भोजन खा कर सो जाने पर पेट की दिक्कतें, उलटी आदि समस्या हो सकती है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.