आँखों की कौन कौन सी जांच होती है (Types of Eye Tests)

नेत्र परीक्षा एक नेत्र रोग विशेषज्ञ, ऑप्टिमास्टिस्ट, या आर्थोस्टिस्ट के द्वारा आँख की दृष्टि का आकलन करने और ऑब्जेक्ट्स पर ध्यान केंद्रित करने और आंखों से संबंधित अन्य परीक्षणों और परीक्षाओं की एक श्रृंखला है। जानीये आँख के टेस्ट कितने प्रकार के होते हैं।

यहाँ आँख के चिकित्सक द्वारा आंखों की जांच के प्रकार और तरीको की जानकारी दी गयी है।

आँख की जांच

1. कॉर्नियल टोपोग्राफी (Corneal Topography)

यह कम्प्यूटरीकृत परीक्षण आपके कॉर्निया की वक्र को नक्शे में दिखाता है। यह टेस्ट आपकी अंकों के साथ समस्याओं को दिखा सकते हैं। आंख की सूजन या घाव के निशान, या इस तरह के रूप की स्थिति की तरह की सतह, दृष्टिवैषम्य। सर्जरी, कॉर्निया प्रत्यारोपण या कांटेक्ट लेंस फिटिंग से पहले आपका यह टेस्ट हो सकता है ।

2. एप्लांसन टोनोमेट्री (Applanation Tonometry)

Loading...

यह परीक्षण आपके कॉर्निया के एक हिस्से को समतल करने के लिए दबाव की मात्रा को मापता है । दबाव रीडिंग से आपके डॉक्टर को ग्लॉकोमा का निदान और ग्लॉकोमा का ट्रैक रखने में मदद मिलती है। वह आपको अपनी आंख को सुन्न करने के लिए ऑय ड्रॉप देता है, फिर एक टोनमीटर नामक एक उपकरण से हल्के ढंग से दबा कर आँखों की जांच करता है।

3. फ्लोरेससेन एंजियोग्राम (Fluorescein Angiogram)

इससे चिकित्सक को आपकी रेटिना में कितनी अच्छी तरह रक्त बहता है, इसका पता चलता है। यह मधुमेह रेटिनोपैथी, रेटिना अलगाव, और मकुलर पतन का निदान करने में सहायता करता है। आपके हाथ में एक नस में डॉक्टर एक विशेष डाई आँख में इंजेक्षन करते है, जो कि फ्लोरोसिसिन कहलाता है। इससे यह जल्दी से रक्त से आप की आंख  की वाहिकाओं में चला जाता है। एक बार जब यह हो जाता है, तो डाई को उजागर करने के लिए चिकित्सक विशेष फिल्टर वाले कैमरे का उपयोग करता है। वह डाई की तस्वीरें लेती है जैसे कि यह आपकी आंखों के पीछे रक्त वाहिकाओं को जाता है । इससे उन्हें रक्त परिसंचरण की समस्याएं, सूजन, लीक या असामान्य रक्त वाहिकाओं को स्थानांतरित करने में मदद मिलती है।

4. स्लिट लैंप परीक्षा (Slit-Lamp Exam)

डॉक्टर आपकी आंखों पर एक छोटे प्रकाश के बीम को चमकने के लिए इस माइक्रोस्कोप का उपयोग करता है। वह परीक्षा के दौरान आपके आँख की पुतालितों को भी फैल सकता है। यह मोतियाबिंद, ग्लूकोमा, अलग रेटिना , धब्बेदार अध: पतन, कॉर्निया की चोट, और सूखी आंखों के रोग का पता लगाने में मदद कर सकता है।

इसे भी पढ़ें -  डबल दृष्टि (दोहरी दृष्टि) : कारण, लक्षण और उपचार | Diplopia

5. Dilated Pupillary Exam

डॉक्टर आपके आंख के पुतली का विस्तार करने के लिए विशेष ड्रॉप्स का उपयोग करता है (डॉक्टर इसे फैलाव बोलते हैं)। यह आपको रोग के लक्षणों के लिए अपनी रेटिना जांचने देता है।

6. अपवर्तन (Refraction)

यह वही टेस्ट है जो डॉक्टर आपके चश्मा की माप लेने के लिए उपयोग करता है। आप एक चार्ट को देखते हैं, आमतौर पर 20 फीट की दूरी से, या एक दर्पण में जो चीजें दिखती हैं जैसे वे 20 फीट दूर हैं। आप फोरोपेटर नामक एक उपकरण के माध्यम से देखेंगे यह आपकी आंखों के सामने डॉक्टर को विभिन्न शक्तियों के लेंस की सुविधा देता है। आप उसे बता सकते हैं कि अगर चीजें स्पष्ट या धुँधली दिखती हैं। आपके उत्तर उसे चश्मे के लिए नंबर पता करने में मदद करते हैं। यह परीक्षण प्रेस्बिओपिया, हाइपरोपिया, मिओपिया और एसिग्माटिसम का भी पता करने में मदद करता है।

7. रेटिना टोमोग्राफी (Retinal Tomography)

यह कम्प्यूटरीकृत टेस्ट आपके रेटिना की सतह को दिखाता है यदि आपको एक गंभीर रेटिना बीमारी है, जैसे आयु-संबंधित मैकुलर अधस्थापन या रेटिना अलगाव।

8. अल्ट्रासाउंड (Ultrasound)

यह परीक्षा आपकी आँख के अंदर की तस्वीर बनाने के लिए ध्वनि तरंगों का उपयोग करती है। यह आपके चिकित्सक को आपकी आंखों में ट्यूमर, मोतियाबिंद, या रक्तस्राव का निदान और उपचार करने में सहायता करता है । आप मोतियाबिंद सर्जरी से पहले इसे प्राप्त कर सकते हैं।

9. गैर-संपर्क टोनोमेट्री (Non-Contact Tonometry)

यह परीक्षण मोतियाबिंद का निदान करने में मदद करता है, चिकित्सक एक उपकरण का उपयोग करता है जिसे एक टोनोमीटर कहा जाता है जो हवा के एक छोटे से पफ पर चलती है, आंखों की कस के प्रतिरोध से अप्रत्यक्ष रूप से नेत्र दबाव को मापता है।

Applanation उपकरण के दबाव को माप सकते हैं वे सबसे सटीक हैं, लेकिन आपको स्थानीय संवेदनाहारी (local anesthetic) की आवश्यकता होगी।

10. दृश्य तीक्ष्णता परीक्षण (Visual Acuity Testing)

यह टेस्ट कितनी अच्छी तरह से आप निकट और दूर की बस्तुएं देखते हैं, उसकी जांच करता है। यदि आपका बच्चा अभी तक नहीं पढ़ पाता है, तो डॉक्टर एक विशेष परीक्षण का उपयोग करेगा। आपका बच्चा “E” को देखेगा, फिर चिकित्सक को बताइए कि पैर उसकी अंगुलियों के साथ इंगित करते हैं। आप इस परीक्षण से पहले घर पर अभ्यास कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें -  आँख की संरचना: मानव नेत्र का सचित्र वर्णन और कार्य

11. दृश्य फ़ील्ड टेस्ट (Visual Field Test)

यह आपके परिधीय दृष्टि की जांच करता है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!