झंडू पंचारिष्ट Pancharishta Uses, Benefits, Side Effects, Dosage, Warnings in Hindi

झंडू पंचारिष्ट का फायदा कब्ज, गैस, अफारा, पेट फूलना, अरुचि, भूख की कमी, गैस के कारण होने वाला पेट दर्द, अम्लपित्त, अपच, अजीर्ण, बदहजमी, पेट में भारीपन आदि है।

झंडू की पंचारिष्ट एक प्रोप्राइटरी दवाई है जो पाचन संबंधी रोगों और पेट की बीमारियों के लिए है। पंचारिष्ट पुरानी कब्ज और पेट में दर्द में लाभप्रद है।

यह काफी प्रसिद्ध है और आधे साल तक ली जा सकती है। पंचारिष्ट पाचन तंत्र के कार्यों में सुधार लाती है। इसे लेने से भूख बढ़ती है। पेट की गैस, पेट फूलना, आदि में इसके सेवन से लाभ होता है।

पंचारिष्ट के संकेत कब्ज, गैस, अफारा, पेट फूलना, अरुचि, भूख की कमी, गैस के कारण होने वाला पेट दर्द, अम्लपित्त, अपच, अजीर्ण, बदहजमी, पेट में भारीपन आदि है।

ध्यान रहे हर दवा सभी के लिए उपयुक्त नहीं होती। इसे लेकर देखें यदि लाभ नहीं होता तो डॉक्टर की सलाह से सही उपचार के बारे में सोचें।

यह पेज झंडू पंचारिष्ट के बारे में हिंदी में जानकारी देता है जैसे कि दवा का कम्पोज़िशन, उपयोग, लाभ/बेनेफिट्स/फायदे, कीमत, खुराक/ डोज/लेने का तरीका, दुष्प्रभाव/नुकसान/खतरे/साइड इफेक्ट्स/ और अन्य महत्वपूर्ण ज़रूरी जानकारी। यह दवा का प्रचार नहीं है। इस पेज का उद्देश्य दवा सम्बंधित सही जानकारी देना है। दवा का इस्तेमाल डॉक्टर की राय पर ही करें।

  • दवा का नाम/उपलब्ध ब्रांड नाम: Zandu Pancharishta
  • निर्माता: झंडु फार्मास्युटिकल वर्क्स लिमिटेड
  • मुख्य प्रयोग: पाचन टॉनिक

झंडू पंचारिष्ट की संरचना क्या है?

Zandu Pancharishta Composition/Ingredients

  • द्राक्षा Draksha (Dried Grapes) Vitis vinifera 2.5g
  • घृत कुमारी Kumari Aloe vera juice 2.5g
  • दशमूल Dashmoola (Combination of famous ten roots of Ayurveda) 2.0g
  • अश्वगंधा Ashvagandha Withania somnifera 1.0g
  • शतावर Shatavari Asparagus racemosus 1.0g
  • त्रिफला Triphala (Combination of three herbs) 0.6g
  • गिलोय Guduchi Tinospora cordifolia 0.5g
  • बला Bala Sida cordifolia 0.5g
  • मुलेठी Yasti Madhu, Liquorice Glycerrhiza glabra 0.5g
  • त्रिकटु Trikatu (Combination of three herbs) 0.3g
  • त्रिजात Trijat (Combination of three herbs) 0.3g
  • अर्जुन Arjuna Terminalia arjuna 0.2g
  • मंजीठ Manjistha Rubia Cordifolia 0.2g
  • अजमोद Ajamoda Apium Graveolens Linn 0.1g
  • धनिया Dhanyaka Coriandrum sativum 0.1g
  • हल्दी Haridra Turmeric Curcuma Longa 0.1g
  • शाठी Shati Hedychium spicatum 0.1g
  • सफ़ेद जीरा Sveta Jiraka Carum bulbocastanum 0.1g
  • लौंग Lavanga Clove Syzygium aromaticum 0.1g
इसे भी पढ़ें -  स्पिरुलिना Spirulina के फायदे, नुकसान और सुरक्षा प्रोफाइल in Hindi

झंडू पंचारिष्ट को किन रोगों में प्रयोग करते हैं?

Loading...

Zandu Pancharishta Indications

झंडू पंचारिष्ट, पेट की बीमारियों के लिए है। इसका मुख्य रूप से पाचन तंत्र पर प्रभाव पड़ता है। इसे पुरानी कब्ज, पेट की गैस, पेट फूलना, उदर विस्तार और पेट के भारीपन में लेने पर मदद मिलती है।

झंडू पंचारिष्ट के चिकित्सीय उपयोग निम्न हैं:

  • अजीर्ण
  • अपच
  • अफारा या पेट फूलना
  • अम्लपित्त
  • अरुचि
  • उदर विस्तार
  • एसिडिटी
  • कब्ज़, सही से मोशन न होना
  • खट्टी डकार
  • गैस
  • गैस के कारण होने वाला पेट दर्द
  • गैस, दर्द, मरोड़
  • पेट फूलना
  • पेट में भारीपन
  • बदहजमी
  • बार-बार अपच
  • भूख की कमी
  • भूख न लगना

तथा अन्य पेट की समस्याएँ जो की बार-बार लम्बे समय तक होती है।

झंडू पंचारिष्ट के औषधीय गुण क्या हैं?

  • अनुलोमन: द्रव्य जो मल व् दोषों को पाक करके, मल के बंधाव को ढीला कर दोष मल बाहर निकाल दे।
  • कफहर: द्रव्य जो कफ को कम करे।
  • शोथहर: द्रव्य जो शोथ / शरीर में सूजन, को दूर करे।
  • वातहर: द्रव्य जो वातदोष निवारक हो।
  • विरेचन: द्रव्य जो पक्व अथवा अपक्व मल को पतला बनाकर अधोमार्ग से बाहर निकाल दे।
  • पाचन: द्रव्य जो आम को पचाता हो लेकिन जठराग्नि को न बढ़ाये।
  • दीपन: द्रव्य जो जठराग्नि तो बढ़ाये लेकिन आम को न पचाए।

झंडू पंचारिष्ट के फायदे क्या हैं?

Zandu Pancharishta Health Benefits

झंडु पंचारिष्ट पाचन के लिए फायदेमंद

पंचारिष्ट के पीने से गैस, अफारा, सूजन, पसली के दर्द, और अरुचि नष्ट होती है। यह भूख और पित्त बढाने वाला, गरम और पाचक है। यह पाचन एंजाइमों के उत्पादन को बढ़ावा देता है। पंचारिष्ट पाचक अग्नि को बल देता है जिससे भोजन पूरी तरह से पच जाता है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को भी निकलता है। यह पाचन शक्ति को बढ़ा कर खाये हुए भोजन को पचाने में मदद करता है।

झंडु पंचारिष्ट के नियमत सेवन से पेट फूलना, खट्टी डकारें, बदहज़मी, अपच, कब्ज़, आदि जैसी शिकायतों में लाभ होता है। पंचारिष्ट का सेवन सम्पूर्ण पाचन को दुरुस्त करने में मददगार है।

इसे भी पढ़ें -  बादाम Badam के उपयोग, फायदे एवं नुकसान Almonds Benefits And Side Effects In Hindi

यह अजीर्ण, पेट के रोग, अग्निमांद्य, गुल्म, कोष्ठबद्धता, अपच आदि में लाभप्रद है।

झंडु पंचारिष्ट कब्ज़ में फायदेमंद

यह पेट में रुकी हुई गैस, भोजन को नीचे की तरफ ले जाने वाली दवा है। यह गुणकारी है और शरीर में जल्दी अवशोषित हो जाता है। इसके सेवन से कब्ज़ की समस्या दूर होती है। यह दस्त को साफ़ करता है और कब्ज़ में राहत देता है।

झंडु पंचारिष्ट गैस में लाभकारी

यह पाचन शक्ति को बढ़ा कर खाए हुए भोजन को हजम करने में लाभकारी है। पंचारिष्ट पेट में रुकी हुई गैस, वायु को नीचे की तरफ ले जाने वाली दवा है। यह गैस के दर्द में आराम देता है।

झंडु पंचारिष्ट भूख बढ़ाना

यह रुचिकर है और मन्दाग्नि को दूर करता है। यह भूख बढ़ाने वाला और पौष्टिक टॉनिक है।

झंडु पंचारिष्ट एसिडिटी कम करना

इसमें आंवला, कुमारी, आदि हैं जो एसिडिटी को कम करने में सहायक है।

झंडू पंचारिष्ट की डोज़ क्या है?

Zandu Pancharishta Dose

वयस्क:

  • 12-24 ml पंचारिष्ट को बराबर मात्रा पानी में मिलाएं।
  • इसे नियमित रूप से खाने के बाद दो बार लें।
  • इसे बराबर मात्रा गुनगुने पानी मिलाकर सेवन करें।
  • झंडू पंचारिष्ट को न्यूनतम 1 महीने से अधिकतम 6 महीने तक ले सकते है।
  • उपचार की अधिकतम अवधि अवस्था के अनुसार भिन्न हो सकती है।
  • कुछ लोगों को इसे 6 महीने के लिए भी लेने की आवश्यकता हो सकती है।

झंडू पंचारिष्ट का अन्य किन दवाओं से इंटरैक्ट कर सकती है?

Zandu Pancharishta Drug Interactions

ज्ञात नहीं है।

झंडू पंचारिष्ट के साइड इफ़ेक्ट क्या हो सकते हैं?

Zandu Pancharishta Adverse Effects

झंडू पंचारिष्ट ज्यादातर लोगों के लिए सुरक्षित है। इस में कोई ऐसी जड़ी बूटी नहीं है जिसका कोई गंभीर दुष्प्रभाव हो।

इसका कोई ज्ञात साइड इफ़ेक्ट नहीं है।

हमारा लक्ष्य आपको सही जानकारी प्रदान करना है। क्योंकि दवाएं प्रत्येक व्यक्ति को अलग तरह से प्रभावित करती हैं, हम इस बात की गारंटी नहीं दे सकते हैं कि इस जानकारी में सभी संभावित दुष्प्रभाव शामिल हैं। यह जानकारी चिकित्सा सलाह के लिए एक विकल्प नहीं है। हमेशा डॉक्टर से संभावित दुष्प्रभावों पर चर्चा करें।

इसे भी पढ़ें -  दालचीनी Cinnamon के उपयोग, लाभ और साइड इफेक्ट्स

झंडू पंचारिष्ट को कब नहीं लेना चाहिए?

Zandu Pancharishta Contraindications

  • इसे गर्भावस्था में न लें।
  • इसमें द्राक्षा एक प्रमुख द्रव्य है, इसलिए मधुमेह में इसे न लें।
  • अधिक मात्रा में नहीं ले। इससे पेट में जलन और शरीर में अधिक गर्मी हो सकती है।

झंडू पंचारिष्ट किन लोगों को सावधानी से लेनी चाहिए?

Zandu Pancharishta Precautions

  • इसे निर्धारित मात्रा से अधिक मात्रा में न लें।
  • यह दवा बड़ों के लिए है इसलिए छोटे बच्चों को न दें।
  • पंचारिष्ट से आम तौर पर पाचन रोगों से राहत 3 महीने के भीतर मिल जाती है, लेकिन यदि 3 महीने के भीतर राहत नहीं मिलती है, तो आपको डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

झंडू पंचारिष्ट प्रेगनेंसी केटेगरी क्या है?

इसके बारे में जानकारी नहीं है।

झंडू पंचारिष्ट किन रूपों में उपलब्ध है?

Zandu Pancharishta Availability

यह लिक्विड दवाई है और बोतल के रूप में उपलब्ध है।

झंडू पंचारिष्ट कैसे स्टोर करें?

Zandu Pancharishta Storage

  • दवा को निर्देशों के अनुसार ही स्टोर करें। इसे रौशनी और नमी से दूर रखें। दवा को अँधेरे में सूखे स्थान पर रखें।
  • दवा के सेवन से पहले एक्सपायरी डेट चेक करें।
  • उपयोग से पहले लेबल ध्यान से पढ़ें।
  • खराब दवा को ठीक तरह से डिस्पोज करें।
  • दवा को बच्चों की दृष्टि और पहुँच से दूर रखें।
  • गलती से दवा का ओवरडोज़ हो गया हो तो डॉक्टर से संपर्क करें।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!