भौहों कैसे बढ़ाएं How to Grow Eyebrows Fast in Hindi

भौंहों के बालों को घना करने के लिए कोई जादुई तरीका तो नहीं है लेकिन फिर भी कुछ चीजें हैं जो बालों के घनत्व को बढ़ा सकती हैं। यदि आईब्रो नेचुरली घनी, काली और सुंदर हों तो इस तरह के मेकउप की ज़रूरत ही नहीं पड़े।

भौहों, बरौनी या आईब्रो, व्यक्ति के सौन्दर्य को प्रभावित करती हैं। भौहों का मुख्य कार्य पसीना, पानी और अन्य पदार्थों को आँखों में गिरने से रोकने का है साथ हो यह एक्सप्रेशन और चेहरे की अभिव्यक्ति के लिए महत्वपूर्ण हैं।

भौहें किसी के चेहरे के सबसे महत्त्वपूर्ण हिस्सों में से एक हैं और चेहरे की सुन्दरता पर निश्चित रूप से असर डालती हैं। जैसे शरीर के अन्य हिस्सों के बाल होते हैं उसी अनुरूप भौहों के बालों का रंग और घनत्व होता है। कुछ लोगों की नेचुरली काली और घनी आईब्रो होती हैं और कुछ लोगों की विरल और कमजोर भौहें होती हैं। यह बहुत कुछ जेनेटिक्स पर निर्भर है।

कुछ आदतें और ग्रूमिंग के तरीके भी भौहों के घनेपन को प्रभावित कर सकते हैं जैसे वैक्सिंग, अधिक थ्रेडिंग, ओवर प्लकिंग, आदि से ब्रोज़ को डैमेज हो सकता है। त्वचा रोगों जैसे एक्जिमा, सोरायसिस या सीब्रोरहाइक डेर्मेटाईटिस आदि के कारण से भी आईब्रो को नुकसान हो सकता है। उम्र बढ़ने, तनाव , खराब गुणवत्ता के कॉस्मेटिक उत्पादों या अंतर्निहित चिकित्सा कारणों से भी ऑय ब्रो को डैमेज होता है।

आईब्रो का सुंदर दिखाने के लिए कॉस्मेटिक कंपनियों के द्वारा पेंसिल, जैल, और अन्य उत्पाद उपलब्ध हैं जो आपकी भौहों को घना दिखाने में मदद कर सकती हैं। लेकिन यह युक्तियाँ मेकअप के साथ ही ठीक लगती हैं। यदि आईब्रो नेचुरली घनी, काली और सुंदर हों तो इस तरह के मेकउप की ज़रूरत ही नहीं पड़े।

भौंहों के बालों को घना करने के लिए कोई जादुई तरीका तो नहीं है लेकिन फिर भी कुछ चीजें हैं जो बालों के घनत्व को बढ़ा सकती हैं।

इसे भी पढ़ें -  4 बातें आँख के टॉनिक और सप्लीमेंट के बारे में

भौहें के बालों को घना करने के घरेलू उपाए

अगर आपकी भौहों में कम बाल हैं तो आप इसे चाह कर भी सुन्दर शेप नहीं दे सकते हैं। कई घरेलू तरीकें हैं जिसे आप घर पर ही कर सकते हैं। इस तरीकों की सबसे अच्छी बात, यह है कि इनका कोई भी साइड इफ़ेक्ट नहीं है।

हालांकि, दिए गए उपचारों को शुरू करने से पहले, एक पैच टेस्ट करें। यदि किसी चीज से एलर्जी है तो उसका इस्तेमाल नहीं करें, जैसे एलो वेरा या कास्टर आयल का इत्सेमाल। कोई भी उपाय करने से पहले चेहरे को अच्छे से धोना भी महत्वपूर्ण है। साथ ही, सुबह फिर से चेहरा अच्छी तरह से साफ करना चाहिए। चेहरे को साफ़ पानी से अच्छे से रिंज किया जाना चाहिए।

किसी भी तरीके में मालिश करना भी महत्वपूर्ण है। भौहों की मालिश करने से बाल विकास को प्रोत्साहित करने में मदद होती है, इसलिए कम से कम एक मिनट या 2 मालिश करना चाहिए। अच्छा उपाय पाने के लिए हफ्तों तक धैर्य के साथ किसी भी उपाय का नियमित रूप से प्रयोग किया जाना चाहिए।

नारियल तेल Coconut Oil

Loading...

नारियल का तेल सभी घरों में होता है। इसे खाना पकाने, चमड़ी पर लगाने के लिए और बालों की चम्पी करने के लिए प्रमुखता से इस्तेमाल किया जाता है। यह बाल और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है।

नारियल तेल को बालों के लिए सबसे अच्छा तेल माना जाता है। यह कंडीशनर के साथ-साथ मॉइस्चराइजर भी है। इससे मालिश करने से रक्त परिसंचरण में सुधार होता है।

नारियल के तेल में पाए जाने वाले वसायुक्त फैटी एसिड, बालों में पाए जाने वाले प्राकृतिक प्रोटीन के साथ काम करते हैं और बालों को टूटने से बचाते हैं। इसमें विटामिन ई, लोहा और अन्य पोषक तत्व शामिल हैं जो आइब्रो में बाल विकास के लिए आवश्यक हैं। नारियल तेल में मौजूद लॉरिक एसिड, बालों के रोम के संक्रमण से बचाता है।

इसे भी पढ़ें -  यूरिक एसिड कम करने का घरेलू इलाज हिंदी में

यदि भौंहों को डैमेज किसी संक्रमण या त्वचा की स्थिति से उत्पन्न होता है, तो नारियल के तेल में मौजूद लॉरिक एसिड एक रोगाणुरोधी एजेंट के रूप में कार्य करता है और आगे की क्षति को रोकता है।

नारियल के तेल में विटामिन ई, विभिन्न प्रोटीनों के साथ-साथ पोषक तत्व होते हैं जो स्वस्थ और मोटी आइब्रो को बढ़ावा देते हैं। आप प्रत्येक दिन अपने भौहें पर नारियल के तेल को लगा सकती हैं।

प्रयोग का तरीका:

अपनी आइब्रो पर नारियल के तेल का उपयोग करने के लिए, तेल को रूई में लगाएं और आईब्रो अप्लाई करें। इसे रात भर रहने से और सुबह धो लें।

लगभग 6 सप्ताह तक रोजाना, दिन में एक या दो बार ऐसा करें।

टी ट्री आयल Tea Tree Oil

नारियल के तेल की तरह, टी ट्री आयल भी ऑयब्रो की ग्रोथ में मदद करता है। यह सेलुलर और फोलिकल के अच्छे स्वास्थ्य के लिए मॉइस्चराइजिंग अवरोध पैदा करता है।

प्रयोग का तरीका:

इसका उपयोग करने के लिए, ऑयब्रो को सोने से पहले लगाएं और रात भर छोड़ दें। तेल से कुछ लोगों में डेर्मेटाईटिस नामक एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है। इसलिए इसे आइब्रो पर लगाने से पहले, त्वचा के एक छोटे से क्षेत्र में उत्पाद का पिच टेस्ट ज़रूर करें।

रेंड का तेल या कैस्टर ऑयल Castor Oil

यह एक पुराना और मोटी भौहें पाने के लिए सबसे प्रभावी उपाय है। चूंकि यह तेल प्रोटीन , फैटी एसिड, एंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन से समृद्ध है, इसलिए यह आपके बालों के रोमों को पौष्टिक बनाने में मदद करता है। कैस्टर ऑयल बाल विकास को ट्रिगर करने में यह प्रभावी होता है। इसके अतिरिक्त, यह त्वचा में गहराई से प्रवेश करता है, जो अन्य उपचारों की तुलना में इसे अधिक फायदेमंद बनाता है। यह उपाए सस्ता और प्रभावी हो सकता है।

मोटी भौहें पाने के लिए, भौंह की जड़ों पर हर दिन अरंडी ऑयल लगाएं, यह हेयर ग्रोथ को बढ़ावा देता है।

इसे भी पढ़ें -  4 बातें आँख के टॉनिक और सप्लीमेंट के बारे में

प्रयोग का तरीका:

अरंडी के तेल की कुछ बूंदों को अपनी उंगलियों पर लें और इससे मालिश करें। इसे 30 मिनट के लिए रखें और फिर मेकअप रिमूवर से पोंछ लें और गर्म पानी से चेहरा धो लें।

अरंडी तेल से कुछ व्यक्तियों में जलन पैदा हो सकती है।

अच्छे परिणाम के लिए आम, स्पष्ट अरंडी के तेल के बजाय काली अरंडी का तेल black castor oil का उपयोग कर सकते हैं।

कुछ लोगों को इस तेल से एलर्जी हो सकती है और शुद्ध अरंडी ऑयल में जलन, पित्ती, और चकत्ते हो सकते हैं। सुनिश्चित करें कि आप इसे प्रयोग करने से पहले एक पैच परीक्षण कर लें ।

जैतून का तेल Olive Oil

जैतून तेल में विटामिन ए और ई होता है, जो बालों के विकास में मदद करते हैं। विटामिन ई बाल का पोषण करता है जबकि विटामिन ए सेबम का उत्पादन उत्तेजित करता है। सीबम हमारे शरीर का प्राकृतिक तेल हसी जो बाल वृद्धि के साथ मदद करता है।

प्रयोग का तरीका:

उंगलियों पर जैतून का तेल की बूंदे लें और अपने भौहें पर मालिश करें। इसे कुछ घंटों तक रखें और चेहरे को पानी से धो लें।

प्याज का रस Juice of Onion

प्याज के रस में सल्फर, सेलेनियम, खनिज, बी विटामिन और सी होते हैं जो बाल विकास के लिए बहुत अच्छे हैं। सल्फर उचित भौंच वृद्धि के लिए आवश्यक कोलेजन ऊतकों के उत्पादन में सुधार करता है। भौहें पर प्याज का रस एक दिन छोड़ कर लगाया जा सकता है।

प्रयोग का तरीका:

प्याज का टुकड़ा लें। इसे ग्रेटर पर घिसें। इससे प्याज का बारीक पेस्ट मिलेगा जिसे दबाने पर प्याज़ का रस निकल आएगा। इसे रूई में सुखा कर ऑयब्रो पर लगाएं और घंटा भर छोड़ दें। फिर नींबू के रस में भिगोई रूई से ऑय ब्रो पोछ लें।

मेथी बीज Methi Seeds or Fenugreek Seeds

मेथी के बीज, बालों के रोमों के पुनर्निर्माण में मदद करते हैं। मेथी में पाया जाने वाला निकोटिनिक एसिड, प्रोटीन बालों की ग्रोथ को प्रोत्साहित करता है।  मेथी पेस्ट को सप्ताह में दो बार इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें -  यूरिक एसिड कम करने का घरेलू इलाज हिंदी में

प्रयोग का तरीका:

मेथी के पानी में रात भर भिगो लें। सुबह इसे पीसकर, आइब्रो पर लगायें। इसे 30-45 मिनट के लिए रखें और गर्म पानी से साफ़ कर लें।

वेसिलीन Vaseline

वैसेलीन का इस्तेमाल मोटी और आकर्षक आइब्रो पाने का एक सरल और सुविधाजनक तरीका हो सकता है। यह नमी के लोस को रोकेगा और उस क्षेत्र को हाइड्रेटेड रखेगा, जिससे आपकी भौहें मोटी और लंबी हो सकती हैं। लेकिन यह तरीका इस्तेमाल नहीं करें, यदि आपके पास ऑयली स्किन है या मुँहासे होते हैं।

प्रयोग का तरीका:

उंगलियों पर वेसिलीन लें और अपने भौहें पर मालिश करें। इसे रात भर रखें और सुबह चेहरे को पानी से धो लें।

अन्य उपयोगी सुझाव

कम से कम 12 सप्ताह तक, ऑय ब्रो को नहीं बनवाएं, प्लकिंग, एपिलेशन, थ्रेडिंग, वैक्सिंग का इस्तेमाल नहीं करें।

ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जो बाल विकास को प्रोत्साहित करते हैं। ओमेगा -3 फैटी एसिड, विटामिन ई और ए, और लैक्टिक एसिड वाले खाद्य पदार्थ बाल विकास के लिए फायदेमंद हैं। अपने आहार में इन विटामिन और एसिड वाले अधिक खाद्य पदार्थों को शामिल करने की कोशिश करें। अखरोट, ब्रसेल्स स्प्राउट, पालक, आदि सभी में ओमेगा -3 फैटी एसिड हैं। विटामिन ए में गाजर, मीठे आलू, काली और पालक सभी उच्च हैं। बादाम, टमाटर, जैतून, और ब्रोकोली में विटामिन ई पाया जाता है।

बायोटिन में समृद्ध पदार्थ खाएं। बीटा विटामिन, बायोटिन आपके बालों को बढ़ने में मदद करने के लिए उत्कृष्ट है। वयस्कों को प्रतिदिन 25-30 मिलीग्राम का उपभोग करने का प्रयास करना चाहिए। अंडा, दही, बादाम आदि में बायोटिन पाया जाता है।

विटामिन बी और डी की कमी नहीं होने दें।

सा पाल्मेटो, का सेवन करके देखें। सा पाल्मेटो पूरक है जिसे कभी-कभी बालों के झड़ने के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है।

कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना शुरू करें।

रक्त परिसंचरण सुधारने के लिए रोजाना व्यायाम करें। दैनिक व्यायाम आपके खून को पम्पिंग करेगा जो बालों को तेजी से बढ़ने में मदद कर सकता है। दैनिक व्यायाम आपके बालों के प्राकृतिक तेल वितरित करने में भी मदद कर सकता है, जिससे आपके बाल स्वस्थ हो सकते हैं और नए विकास को प्रोत्साहित कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें -  यूरिक एसिड कम करने का घरेलू इलाज हिंदी में

तनाव का प्रबंधन करें। तनाव शरीर में सभी प्रकार के दुष्प्रभावों का कारण हो सकता है, जिसमें धीमे बाल वृद्धि शामिल है। यदि आप बहुत अधिक तनाव में हैं, तो कोशिश करें और इसे कम करें। यदि आपका तनाव स्तर गंभीर है, तो एक चिकित्सक से परामर्श करने पर विचार करें।

ऑय ब्रो सीरम का इस्तेमाल करके देखें। ध्यान दें, ऑय ब्रो ग्रोथ सीरम से हार्मोनल असंतुलन हो सकता है, खासकर महिलाओं में।

  • मेकअप नहीं करें।
  • ऑय ब्रो की मालिश करें जिससे ब्लड सरकुलेशन ठीक से हो।
  • बहुत अधिक थ्रेडिंग नहीं करवाएं।
  • ऑयब्रो, प्लक नहीं करें।
  • ऑयब्रो पेन्सिल दबा कर इस्तेमाल नहीं करें।
  • उपचार की अवधि के दौरान ऑय मेकअप से बचना चाहिए।
  • मोटा लोशन और क्रीम लगाने से बचें, क्योंकि वे अपने बालों के रोम को जाम सकते हैं और बाल विकास को बाधित कर सकते हैं।

कई हफ्तों के बाद, भी यदि आप परिणाम नहीं देख रहे हैं, तो त्वचा विशेषज्ञ से बात करें। हार्मोन संबंधी विकार, एलर्जी, अन्य स्वास्थ्य स्थितियों से बालों के झड़ने का कारण हो सकता है। इसके अतिरिक्त, कुछ दवाएं बालों से संबंधित दुष्प्रभावों को जन्म दे सकती हैं। यदि ऐसा है, तो पता लगाने के लिए डॉक्टर से राय लें। बालों के झड़ने या कूप संबंधी क्षति के मामलों में ग्राफ्टिंग का प्रयोग किया जा सकता है। चोट लगने या फोलिकल के डैमेज हो जाने पर घरेलू उपचार बहुत मदद नहीं कर सकते।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.